Monday - 12 April 2021 - 12:54 AM

कैसे कमजोर पड़ीं मैन्यूफैक्चरिंग सेक्टर की गतिविधियां, रोजगार में आई कमी

जुबिली न्यूज़ डेस्क

नई दिल्ली। भारत के मैन्यूफैक्चरिंग सेक्टर की गतिविधियों में फरवरी माह के दौरान हल्की सुस्ती आई लेकिन नये आर्डर मिलने से कंपनियां उत्पादन और खरीदारी गतिविधयां बढ़ने से उत्साहित हैं। सोमवार को जारी मासिक सर्वेक्षण में यह कहा गया है।

आएचएस मार्केट भारत विनिर्माण खरीद प्रबंधक सूचकांक (पीएमआई) फरवरी माह में मामूली गिरकर 57.5 अंक पर आ गया। एक महीना पहले जनवरी में यह 57.7 पर था। इसमें यह संकेत मिलता है कि जनवरी से वृद्धि की रफ्तार कुछ नरम पड़ी है लेकिन पुराने आंकड़ों के संदर्भ में यह लगातार तेज बनी हुई है।

ये भी पढ़े: मैनपावर सप्लाई में भ्रष्टाचार की शिकायत

ये भी पढ़े: बॉलीवुड की क्वीन के खिलाफ इस मामले में जारी हुआ वारेंट

सर्वेक्षण में कहा गया है कि फरवरी माह के शीर्ष आंकड़े दीर्घकालिक औसत 53.6 के मुकाबले ऊंचे बने हुए हैं। पीएमआई में आंकड़ा 50 से ऊंपर रहने का अर्थ है क्षेत्र में विस्तार हुआ है जबकि 50 से नीचे रहने का मतलब इसमें गिरावट आई है।

ये भी पढ़े: झाड़-फूंक के चक्कर में तांत्रिक ने ले ली महिला की जान

ये भी पढ़े: रैदास के बहाने दलित वोट पर निशाना?

आईएचएस मार्केट की अर्थशास्त्र की सहायक निदेशक पालियाना डे लिमा ने कहा, ‘फरवरी माह में भारतीय माल उत्पादकों को उनके माल के लिए नये आर्डर प्राप्त हुए। इस स्थिति को देखते हुए आने वाले समय में उत्पादन और खरीद मात्रा में वृद्धि की उम्मीद है।

लीमा ने कहा कि यदि कंपनियों के पास नये आर्डर को पूरा करने के लिए उपयुक्त संसाधन और क्षमता होती है तो उत्पादन वृद्धि मजबूत रह सकती है। ”यह नये आर्डर में त्वरित वृद्धि और तैयार माल की उपलब्धता में आई कमी से साबित होता है।

बहरहाल, इस दौरान रोजगार में कमी आई है क्योंकि कोविड- 19 के चलते कामकाज को एक स्थान से दूसरे स्थान पर ले जाने पर प्रतिबंध लागू हैं। ”बहरहाल, कई लोगों को उम्मीद है कि इस तरह के नियंत्रण जल्द ही हटा लिए जायेंगे क्योंकि देश में टीकारण कार्यक्रम तेजी से बढ़ रहा हे।

देश में जैसे ही बड़ी संख्या में जनसंख्या को टीका लग जायेगा और प्रतिबंध उठने लगेंगे तो कंपनियों को कामकाज, अर्थव्यवस्था में धीरे धीरे सुधार की उम्मीद है। इससे उत्पादन वृद्धि भी तेज होगी।

ये भी पढ़े: भाजपा विधायक का आरोप, कहा-चंद्रशेखर की हत्या में शाामिल थे नेहरू

ये भी पढ़े: ‘व्यवसाय बंद कर दो, चूल्हा फूंकों, जुमले खाओ!’

English

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com