Thursday - 4 March 2021 - 3:15 PM

गुजरात निकाय चुनाव : भाजपा सभी महानगरों में आगे

जुबिली न्यूज डेस्क

गुजरात नगर निकाय चुनाव के नतीजों के लिए वोटों की गिनती जारी है। नतीजों में बीजेपी अब तक 27 सीटों पर कब्जा जमा चुकी है, जबकि कांग्रेस के खाते में सात सीटें गई हैं।

गुजरात में शहरी निकायों के चुनाव में भाजपा तमाम महानगरपालिकाओं में आगे चल रही है। मंगलवार को अहमदाबाद, सूरत, वडोदरा, राजकोट, जामनगर और भावनगर में महानगरपालिका चुनाव के लिए मतगणना चल रही है।

वडोदरा में कांग्रेस को 12 बजे तक सात सीटें तो बीजेपी को 13 सीटें मिली हैं। वहीं सौराष्ट्र में जामनगर, राजकोट और भावनगर में बीजेपी आगे चल रही है।

ये भी पढ़े: भारतीय चिकित्सक संघ की डॉ. हर्ष वर्धन के प्रति नाराजगी की वजह क्या है?

ये भी पढ़े: या मौत का जश्न मनाना चाहिए?

जामनगर में 64 सीटों में से सात बीजेपी के खाते में गई थीं वहीं कांग्रेस एक सीट पर आगे थी। भावनगर में भाजपा के खाते में सात और कांग्रेस को एक सीट मिली है। वहीं दोपहर 12 बजे तक अहमदाबाद और सूरत में बीजेपी चार-चार सीटें जीत चुकी हैं।

रविवार को गुजरात में 6 महानगरपालिकाओं के चुनाव में 41.75 फीसदी मतदान हुआ था।

अहमदाबाद में सबसे कम और जामनगर में सबसे ज़्यादा मतदान हुआ था। असदुद्दीन ओवैसी की पार्टी AIMIM और आम आदमी पार्टी पहली बार गुजरात के महानगर पालिका चुनाव में उतरी हैं।

अहमदाबाद के दरियापुर वॉर्ड में ओवैसी की पार्टी के उम्मीदवारों को दोपहर 12 बजे तक सात राउन्ड की मतगणना तक सात हजार से अधिक वोट मिले थे।

ये भी पढ़े: दक्षिण में खाली हुई कांग्रेस, अब सिर्फ इन राज्यों में है कांग्रेस की सरकार

ये भी पढ़े:  इस बार भाजपा के लिए क्यों खास है महिला दिवस?

दरियापुर वॉर्ड में कांग्रेस आगे चल रही है। दूसरे नंबर पर भाजपा का पैनल है। ओवैसी की पार्टी के उम्मीदवार फरहान सैयाद को दोपहर 11.30 बजे तक 7999 और समीर शेख को 7363 वोट मिले थे।

अहमदाबाद के दरियापुर वॉर्ड में ओवैसी की पार्टी के उम्मीदवारों इन चुनावों में बीजेपी के पेजप्रमुख मॉडल के सफल रहने की चर्चा है।

गुजरात में 28 फरवरी को जिला और तालुका पंचायत के चुनाव भी होने वाले हैं।

और महानगरपालिका चुनावों के नतीजों का असर जिला और तालुका पंचायत के चुनाव पर भी देखने को मिल सकता है।

ये भी पढ़े: अमेरिका : कोविड-19 से मौतों का आंकड़ा पांच लाख पार, 5 दिनों का शोक

ये भी पढ़े:  CAA-NRC: दिल्ली हिंसा को हुआ एक साल तो क्या बोले बीजेपी नेता

English

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com