Sunday - 11 April 2021 - 11:20 PM

बेटी के साथ छेड़छाड़ का केस वापस नहीं लिया तो पिता को मिली सजा

जुबिली न्यूज़ डेस्क

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के हाथरस में बेटी से छेड़छाड़ की शिकायत वापस ना लेने पर आरोपी ने पीड़िता के पिता की गोली मारकर हत्या कर दी। लड़की के पिता अंबरीश शर्मा (50) ने आरोपी गौरव के खिलाफ 2008 में अपनी बेटी के साथ छेड़छाड़ का मामला दर्ज कराया था और वह जेल भी गया था, लेकिन एक महीने बाद ही वह जमानत पर रिहा हो गया था।

अंबरीश की बेटी ने प्राथमिकी में आरोप लगाया कि वह अपने पिता अंबरीश के साथ आलू के खेत में थी, जब गौरव अपने एक साथी के साथ सफेद कार में आया और अंबरीश को उसके खिलाफ मामला वापस लेने को कहने लगा।

ये भी पढ़े:8वें सबसे अमीर व्यक्ति बने मुकेश, पढ़े दुनिया के सबसे रईस लोगों की सूची

ये भी पढ़े:अभिषेक गुप्ता के तूफान में उड़ा प्रभा SPORTS अकादमी

उन्होंने आरोप लगाया इससे पहले कि मेरे पिता कुछ कह पाते, उसने उन पर गोलियां चला दीं। हम उन्हें लेकर अस्पताल गये, जहां उनकी मौत हो गई। वहीं, हाथरस पुलिस अधीक्षक विनीत जायसवाल का कहना है कि यह घटना सोमवार दोपहर हाथरस के नोजरपुर गांव के सासनी क्षेत्र में हुई, जब अंबरीश शर्मा (50) की बेटियां मंदिर गई थीं।

ये भी पढ़े:OMG ! पहले दिया जहर और फिर कर रहे थे अंतिम संस्कार लेकिन फिर…

ये भी पढ़े: ‘सामने कोई भी हो, मैं तो बस मार दूंगी’…देखें सायना की बायोपिक का दमदार टीजर

आरोपी गौरव शर्मा की पत्नी और एक रिश्तेदार भी वहां मौजूद थीं। इन महिलाओं के बीच बहस हो गयी और तभी आरोपी गौरव तथा लड़कियों के पिता अंबरीश भी वहां पहुंच गए। पुलिस अधीक्षक के मुताबिक गौरव और अंबरीश के बीच बहस हो गयी, जिसके बाद गौरव ने अपने कुछ रिश्तेदारों को बुला लिया और फिर अंबरीश को गोली मार दी।

उन्होंने बताया कि अंबरीश की बेटी की शिकायत के आधार पर हत्या के तहत गौरव शर्मा, ललित शर्मा, रहितेश शर्मा, निखिल शर्मा और दो अन्य के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की गई है। इनमें से ललित को गिरफ्तार कर लिया गया है।

घटना का संज्ञान लेते हुए उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आरोपियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई के आदेश दिए हैं और आरोपियों के खिलाफ रासुका लगाने का भी निर्देश दिया है।

ये भी पढ़े:Assembly Election 2021 : तो क्या NRI नहीं डाल सकेंगे वोट

ये भी पढ़े: FASTag की वजह से बचेगा इतने करोड़ का ईंधन

English

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com