Tuesday - 11 August 2020 - 9:04 PM

सस्पेंड एसओ समेत सात लोगों की रिमांड की कोशिशें तेज़

जुबिली न्यूज़ डेस्क

लखनऊ. कानपुर के विकास दुबे काण्ड में संदिग्ध भूमिका की वजह से निलंबित किये गए चौबेपुर के थानाध्यक्ष विनय तिवारी और बीट प्रभारी के.के. शर्मा को आज गिरफ्तार कर लिया गया. गिरफ्तारी के बाद विनय तिवारी, के.के.शर्मा, मुठभेड़ में मारे गए अमर दुबे के पिता और पत्नी समेत सात लोगों को लेकर पुलिस कानपुर देहात स्थित स्पेशल जज की कोर्ट में पहुँच गई है. पुलिस इन सभी से पूछताछ के लिए इन्हें रिमांड पर लेने की कोशिश करेगी.

आरोप है कि थानाध्यक्ष विनय तिवारी और चौकी इंचार्ज के.के.शर्मा ने ही दबिश की पूरी जानकारी लीक की थी और उन्हें मालूम था कि आज वहां बड़े पैमाने पर खूनी खेल होने वाला है. इसी वजह से  के.के. शर्मा बीट इंचार्ज होने के बावजूद दबिश पर नहीं गया और सिपाही राजीव को इस बात की जानकारी मिल गई कि विकास दुबे आज दबिश देने आ रही टीम के साथ खूनी खेल खेलने जा रहा है लेकिन इसके बाद भी विनय तिवारी ने दबिश देने आ रही टीम को सावधान नहीं किया.

यह भी पढ़ें : विकास दुबे के साथी कार्तिकेय के पास मिले पुलिस से छीने गए असलहे

यह भी पढ़ें : पति की शादी की खबर सुनते ही पुलिस लेकर लौटी पत्नी, फिर जो हुआ

यह भी पढ़ें : कानपुर कांड के बहाने अखिलेश ने किस पर साधा निशाना

यह भी पढ़ें : बुंदेलखंड : 150 से 200 रुपए के लिए जिस्म बेचने को मजबूर नाबालिग लड़कियां

एसएसपी ने चौबेपुर थाने के बाकी बचे 68 पुलिसकर्मियों को लाइन हाज़िर करते हुए चौबेपुर में 55 पुलिसकर्मियों के नए स्टाफ को तैनात किया गया है.

English

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com