Friday - 3 February 2023 - 5:31 AM

‘बिना फास्टैग के टोल प्लाजा से निकलने पर देना होगा दोगुना टोल’

न्यूज़ डेस्क

नई दिल्ली। राष्ट्रीय राजमार्गों पर एक दिसंबर के बाद यदि कोई वाहन फासटैग के बिना टोल प्लाजा की फास्टैग लेन से गुजरता है तो उस वाहन चालक को दोगुना टोल भुगतान करना होगा। केन्द्रीय सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने यह बात कही।

सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय की प्रमुख पहल राष्ट्रीय इलेक्ट्रॉनिक पथकर संग्रह (एनईटीसी) के तहत एक दिसंबर से टोल भुगतान गेट से केवल फास्टैग के जरिए ही भुगतान होगा।

ये भी पढ़े: अमेठी के बाद देवरिया के डीएम का वीडियो वायरल, व्यवसायी को बुरी तरह पीटा

जिन वाहनों में फास्टैग नहीं लगा होगा उन्हें फास्टैग वाहनों के लिए बनी लेन से निकलने पर दोगुनी राशि चुकानी होगी। हालांकि टोल प्लाजा पर एक लेन ऐसी भी होगी जहां बिना टैग वाले वाहनों से सामान्य टोल ही वसूला जाएगा।

गडकरी ने यहां कहा, ‘देशभर के राष्ट्रीय राजमार्गों पर 537 टोल प्लाजा पर बिना फास्टैग के वाहनों के फास्टैग वाली लेन से गुजरने पर एक दिसंबर से दोगुना शुल्क देना होगा।’

फास्टैग सुविधा के तहत वाहनों पर एक इलेक्ट्रॉनिक तरह से पढ़ा जाने वाला टैग लगा दिया जाता है। इसके बाद वाहन जब किसी टोल प्लाजा से गुजरता है तो वहां लगी मशीन उस टैग के जरिए इलेक्ट्रानिक तरीके से शुल्क वसूल कर लेती है। इससे वाहनों को चुंगी शुल्क गेट पर रुक कर नगद भुगतान नहीं करना होता।

ये भी पढ़े: सत्ता के दरवाजे कब तक खड़ी रहेगी बारात !

ये भी पढ़े: टिफिन सर्विस के बहाने टिकट दलाली, फर्जी आईडी बरामद

गडकरी ने कहा कि फास्टैग को लोकप्रिय बनाने के लिए भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण (NHAI) एक दिसंबर तक इसे निशुल्क वितरित कर रही है। हालांकि फासटैग को वाहन चालक को अपनी जरूरत के मुताबिक चार्ज कराना होगा ताकि टोल प्लाजा से निकलते समय उससे टोल राशि का भुगतान पूरा किया जा सके। एक दिसंबर के बाद एनएचएआई फासटैग के लिए राशि लेगा।

गडकरी ने कहा कि अगले पांच साल में एनएचएआई की सालाना आय बढ़कर एक लाख करोड़ रुपए तक पहुंच जाने की उम्मीद है। अगले दो साल में NHAI का टोल राजस्व 30 हजार करोड़ रुपए तक पहुंच जाने का अनुमान है।

मंत्री ने कहा कि एनएचएआई के समक्ष किसी तरह की वित्तीय समस्या नहीं है और राजमार्गों के तीसरे आवंटन में बुधवार को 5,011 करोड़ रुपए की प्राप्ति हुई है। क्यूबे हाईवे इसमें विजेता बनकर उभरी है। राजमार्ग निर्माण के लिए यह आवंटन टोल, आपरेट, ट्रांसफर (टीओटी) आधार पर हुआ है।

ये भी पढ़े: मैच का टिकट करते थे ब्लैक, पुलिस के रडार पर ऐसे आये

English

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com