Sunday - 9 August 2020 - 1:48 AM

खांसी, छींक से आठ मीटर तक जा सकता है वायरस: वैज्ञानिक

न्यूज़ डेस्क

नयी दिल्ली। कोरोना वायरस को फैलने से रोकने के लिए विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) और ‘अमेरिका रोग नियंत्रण एवं रोकथाम केंद्र’ (सीडीसी) के सामाजिक दूरी के मौजूदा दिशा- निर्देश पर्याप्त नहीं हैं और खांसी या छींकने से यह वायरस आठ मीटर दूर तक जा सकता है।

ये भी पढ़े: कोरोना :अलर्ट है मगर डरा नहीं है सिंगापुर

ये भी पढ़े: कोरोना से लड़ने वालों की जान गई तो केजरीवाल सरकार देगी 1 करोड़ रुपए

‘जर्नल ऑफ द अमेरिकन मेडिकल एसोसिएशन’ में प्रकाशित अनुसंधान के अनुसार डब्ल्यूएचओ तथा सीडीसी ने इस समय जो दिशा- निर्देश जारी किये हैं वे खांसी, छींक या श्वसन प्रक्रिया से बनने वाले ‘गैस क्लाउड’ के 1930 के दशक के पुराने पड़ चुके मॉडलों पर आधारित हैं।

अध्ययनकर्ता एमआईटी की एसोसिएट प्रोफेसर लीडिया बूरूइबा ने आगाह किया कि खांसी या छींक की वजह से निकलने वाली सुक्ष्म बूंदें 23 से 27 फुट या 7-8 मीटर तक जा सकती हैं। उन्होंने कहा कि मौजूदा दिशा- निर्देश बूंदों के आकार की अति सामान्यकृत अवधारणाओं पर आधारित है और इस घातक रोग के खिलाफ प्रस्तावित उपायों के प्रभावों को सीमित कर सकते हैं।

ये भी पढ़े: बचना है कोरोना से तो जानिए आयुष मंत्रालय की ये सलाह

English

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com