Friday - 25 June 2021 - 12:55 AM

चित्रकूट जेल बना जंग का मैदान, कैदियों में फायरिंग कई के मरने की सूचना

जुबिली न्यूज़ डेस्क

लखनऊ। कोरोना संकट के बीच उत्तर प्रदेश का चित्रकूट जिला कारागार गोलियों की तड़तड़ाहट से गुंज उठा। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार जिला जेल रगौली में दो कैदियों में विवाद इसकी वजह बनी। जिसमें कई राउंड फायरिंग भी हुई जिसमें दो क़ैदियों की मौत हो गई है। जिसमें अंशुल दीक्षित नामक बंदी ने फायरिंग कर मेराजुद्दीन और पश्चिम यूपी के बड़े बदमाश मुकीम उर्फ काला को मार डाला।

बता दें कि पुलिस और कैदियों के मुड़भेड़ की खबर लगते ही जिला अधिकारी एवं पुलिस अधीक्षक जेल पहुंचे। सूत्रों के मुताबिक दो क़ैदियों की मौत के बाद कारागार पुलिस छावनी में तब्दील हो गया है। हालांकि खबर लिखे जाने तक कोई आधिकारिक पुष्टि नहीं की गयी।

ये भी पढ़े:यूपी में ब्लैक फंगस की दहशत बढ़ी, जानें क्या है इसके लक्षण

ये भी पढ़े: PM मोदी ने किसानों को दी सौगात, खाते में पहुंचाए 2000 रुपये

उत्तर प्रदेश के चित्रकूट जिला जेल में उस समय हड़कंप मच गया जब अंशु दीक्षित पुत्र जगदीश जो जिला जेल सुल्तानपुर से प्रशासनिक आधार पर स्थानांतरित होकर चित्रकूट में निरुद्ध है। आज सुबह लगभग 10 बजे सहारनपुर से प्रशासनिक आधार पर आए बंदी मुकीम काला तथा बनारस जिला जेल से प्रशासनिक आधार पर आए मेराज अली को असलहे से मार दिया तथा पांच अन्य बंदियों को अपने कब्जे में कर लिया।

प्रशासन को खुली चुनौती देते हुए अन्य बंदियों को जान से मारने की धमकी देने लगा। क्योंकि वह अवैध असलहों से लैस था और हवाई फायरिंग कर रहा था। इससे जिला प्रशासन के हाथ पांव कांप गए। आनन फानन में पुलिस ने जवाबी कार्रवाई की जिसमें दो- तीन कैदियों की मौत हो गई।

बताया जा रहा है कि मुख्तार अंसारी का खास मेराजुद्दीन मेराज की भी इस गोली कांड में मौत हो गई है। हाल ही में वह बनारस जेल से ट्रांसफर हो कर चित्रकूट आया था।

ये भी पढ़े:पेट्रोल- डीजल के दाम फिर तोड़ रहे रिकॉर्ड, कीमतों में भारी उछाल

ये भी पढ़े: पत्रकारों और उनके परिजनों का काेरोना इलाज कराएगी शिवराज सरकार

बता दें कि मुकीम काला खूंखार अपराधी है जिसमें NIAऑफ़िसर तंजील अहमद को दिनदहाड़े मौत के घाट उतार दिया था। मुकिम काला ने NIAअफ़सर तंजील अहमद को मारने से पहले प्रैक्टिस के तौर पर लखनऊ में निर्दोष होटल मैनेजर की हत्या कर दी थी जिसके बाद पुलिस ने उसे जेल भेज दिया था।

फिलहाल जिला जेल में जिलाधिकारी तथा एसपी मौके पर मौजूद हैं तथा घटनाक्रम की जानकारी प्राप्त कर रहे हैं। पूरे जेल की तलाशी ली जा रही है। फिलहाल कारागार में शांति है तथा स्थिति नियंत्रण में है।

हाल ही में मेराज का बनारस जेल से हुआ था ट्रांसफर

बता दें कि अंशुल दीक्षित नामक बंदी ने फायरिंग कर मुख्तार अंसारी के बेहद खास मेराजुद्दीन मेराज जिसका हाल ही में बनारस जेल से ट्रांसफर किया गया था और पश्चिम यूपी के बड़े बदमाश मुकीम उर्फ काला को मार डाला। वासिम काला और मेराजुद्दीन मेरठ के रहने वाले थे।

वहीं सूत्रों के अनुसार अंशुल दीक्षित भी पुलिस कार्यवाही में मारा गया है। दीक्षित सीतापुर का रहने वाला है उसने वासिम काला और मेराजुद्दीन को पिस्टल से गोली मारी फिर पुलिस ने अंशुल दीक्षित को जवाबी फायरिंग में मार डाला है।

मुकीम काला पर दर्ज थे 61 मुकदमे

आगे बता दें कि मुकीम काला वही खतरनाक अपराधी है जिसमें NIA ऑफ़िसर तंजील अहमद को दिन दहाड़े मौत के घाट उतार दिया था। काला ने अफ़सर को मारने से पहले प्रैक्टिस के तौर पर लखनऊ में निर्दोष होटल मैनेजर की हत्या कर दी थी। मारे गए अपराधी मुकीम काला पर 61 मुकदमे दर्ज थे।

ये भी पढ़े:धीमी पड़ने लगी कोरोना की रफ्तार, एक दिन में आए इतने नए केस

ये भी पढ़े: घरेलू कलह ने उजाड़ा परिवार! महिला ने बच्चों समेत पिया जहर…

English

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com