Saturday - 6 January 2024 - 12:42 PM

‘मुख्यमंत्री आशीर्वाद योजना’ बतौर मॉडल पूरे प्रदेश में होगी लागू: शिवराज

जुबिली न्यूज़ डेस्क

ग्वालियर। मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि असहाय बुजुर्ग और दिव्यांगों को घर पर ही राशन मुहैया कराने के लिये शुरू की गई ‘मुख्यमंत्री आशीर्वाद योजना’ को बतौर मॉडल पूरे मध्य प्रदेश में लागू किया जायेगा।

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने आज ‘मुख्यमंत्री आशीर्वाद योजना’ का शुभारंभ करते हुए कहा कि इस योजना को पूरे प्रदेश में लागू किया जाएगा। योजना के तहत ग्वालियर में 65 वर्ष से अधिक आयु के 3607 बुजुर्ग एवं दिव्यांगों के घर पर शासकीय उचित मूल्य की दुकान से राशन पहुंचाया जायेगा।

ये भी पढ़े: अब किसकी जयंती मनाने जा रही है योगी सरकार

ये भी पढ़े: VIDEO : सुशांत की प्रेमिका ने क्यों बढ़ा दिया सोशल मीडिया का पारा

मुख्यमंत्री शिवराज ग्वालियर प्रवास के दौरान कई कार्यक्रमों में शामिल हुए। मुख्यमंत्री ने दोपहर का भोजन सफाईकर्मी रामसेवक के घर किया। गुड़ी गुढ़ा का नाका नादरिया माता मंदिर के पास रहने वाले रामसेवक नगर निगम में सफाईकर्मी हैं।

ये भी पढ़े:वैज्ञानिकों की बात मानते तो तबाही का शिकार नहीं होता उत्तराखंड

ये भी पढ़े: गंगा किनारे पड़ने वाले जिलों में क्यों हुआ हाई अलर्ट

मुख्यमंत्री शिवराज ने रामसेवक के परिवार की जानकारी ली और उनका हाल-चाल जाना। उन्होंने रामसेवक को मकान की मरम्मत के लिए रेडक्रॉस से 20 हजार रुपये का चैक भी प्रदान किया। इस दौरान रामसेवक के परिवार के अन्य सदस्य भी मौजूद थे।

रामसेवक की बेटी और पत्नी ने तिलक लगाकर सभी अतिथियों का स्वागत किया। मुख्यमंत्री शिवराज ने खाने की तारीफ करते हुए कहा कि भोजन में परिवार के सदस्यों का स्नेह भी मिला।

इसके अलावा ग्वालियर प्रवास के दौरान मुख्यमंत्री ने निर्देश दिए कि ग्वालियर विकास के रोडमैप को इस प्रकार से मूर्तरूप दें, जिससे अधोसंरचनागत विकास के साथ- साथ पर्यटन को बढ़ावा मिले। उद्योग धंधे पनपें और बड़े पैमाने पर रोजगार पैदा हों। साथ ही ग्वालियर स्वच्छ, सुंदर एवं सुनियोजित शहर का रूप ले।

ये भी पढ़े: मंत्री मुख़्तार ने बताया ‘हुनर हाट’ के जरिये इतने लोगों को मिला रोजगार

ये भी पढ़े: IND vs ENG : ये वो गलती है जो पड़ सकती है TEAM INDIA पर भारी

मुख्यमंत्री ने कहा वेस्टर्न बाइपास ग्वालियर शहर के विकास के लिये अत्यंत महत्वपूर्ण है। इस काम को सर्वोच्च प्राथमिकता देकर समय- सीमा में पूर्ण कराया जाये। बाइपास के पूरा होने पर रिंग रोड़ की कल्पना साकार होगी। उन्होंने कहा कि इंदौर के सुपर कोरीडोर की तरह बाइपास का निर्माण कराएँ।

मुख्यमंत्री शिवराज के ग्वालियर दौरे के दौरान कई कार्यक्रम में केन्द्रीय कृषि विकास एवं किसान कल्याण मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर, राज्यसभा सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया, प्रदेश के ऊर्जा मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर, सहित तमाम जन-प्रतिनिधि और अधिकारी उपस्थित थे।

ये भी पढ़े: डंके की चोट पर : क्या खालिस्तान के सपने को फिर मिल रहा है खाद-पानी

ये भी पढ़े: ऐप ने जनवरी में कैसे तोड़ दिए इतने रिकॉर्ड, क्यों चर्चा में आया Telegram

Radio_Prabhat
English

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com