Wednesday - 8 July 2020 - 7:20 AM

सीबीएसई बोर्ड ने रद्द की दसवीं और बारहवीं की परीक्षाएं

जुबिली न्यूज़ डेस्क

देशभर में कोरोना वायरस के लगातार बढ़ रहे मामलों को देखते हुए केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड यानी सीबीएसई ने दसवीं और बारहवीं के 1 से 15 जुलाई के बीच होने वाली परीक्षाओं को रद्द करने का फैसला किया है। बोर्ड ने सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई के दौरान शीर्ष अदालत को अपना फैसला बताया।

इस मामलें में सॉलिसिटर जनरल तुषार मेहता ने कहा कि 10वीं और 12वीं की 1 से 15 जुलाई को होने वाली परीक्षा को कैंसिल कर दिया गया है। बता दें कि सीबीएसई ने केवल 10वीं की परीक्षाओं को पूरी तरह से कैंसिल करने का फैसला किया है। क्लास 12वीं की परीक्षाएं अब वैकल्पिक हो सकेंगी, जोकि स्थिति सामान्य होने पर कराई जा सकती हैं।

गौरतलब है कि छात्रों के अभिभावकों ने कोरोना संकट को देखते हुए सीबीएसई परीक्षा रद्द करने के लिए सुप्रीम कोर्ट में दायर की थी। इसकी सुनवाई में सुप्रीम कोर्ट ने सुरक्षा मुद्दे के कारण बची सीबीएसई परीक्षाओं को कैंसिल करने का आदेश दिया है। इस पर कोर्ट में सुनवाई मंगलवार को हुई थी।

सुप्रीमकोर्ट के आदेश के बाद सीबीएसई ने अंतिम निर्णय के लिए 25 जून तक का समय मांगा था। अब यह कहा है कि सीबीएसई बोर्ड कक्षा 10वीं के छात्रों के लिए परीक्षा को पूरी तरह से कैंसिल कर दिया गया है, लेकिन कक्षा 12वीं के छात्र वैकल्पिक रूप से सीबीएसई बोर्ड परीक्षा के लिए उपस्थित हो सकते हैं।

ये भी पढ़े : UP Board Result 2020 : छात्रों को मिलेगी ये खास सुविधा

ये भी पढ़े : CBSE 10th,12th की परीक्षाओं पर आज खत्म हो सकता है सस्पेंस, जानिए क्या हैं विकल्प

ये भी पढ़े : सीबीएसई सहित कई परीक्षाएं हो सकती हैं स्थगित

सीबीएसई को बची हुई परीक्षा में देश भर में 31 लाख से अधिक छात्रों को शामिल होना था। वहीं अब इसका असर सभी केंद्रीय विश्वविद्यालयों की प्रवेश प्रक्रिया के साथ-साथ जेईई मेन और नीट 2020 सहित राष्ट्रीय प्रवेश परीक्षा पर भी पड़ेगा।

बोर्ड कल जारी करेगा नोटिफिकेशन

परीक्षाओं को रद्द करने के बाद इसके बारे में जानकारी देने के लिए सीबीएसई बोर्ड कल यानी शुक्रवार को नोटिफिकेशन जारी करेगा। इसमें परीक्षा रद्द होने की सूरत में अंक देने और परिणाम जारी करने से संबंधित सभी जानकारी दी जाएगी।

ये विकल्प बचे

बोर्ड के पास अब जो विकल्प बचे हैं इसमें जिन विषयों की परीक्षाएं होनी थीं, उनमें छात्रों को आंतरिक मूल्यांकन के आधार पर औसत अंक देकर प्रमोट किया जा सकता है। इसके अलावा संबंधित विषयों में अंक सुधार के लिए बाद में परीक्षा देने का विकल्प भी छात्रों को मिल सकता है।

जुलाई में आ सकते हैं नतीजे

अब जब सीबीएसई बोर्ड ने दसवीं और बारहवीं की बची परीक्षाएं रद्द करने का फैसला किया है तो स्टूडेंट्स के बीच जल्द ही नतीजे आने की उम्मीद भी बढ़ गई है। इसके लिए बोर्ड ने लॉकडाउन से पहले हो चुके पेपर की कॉपियों के जांचने का काम पहले ही शुरू कर दिया था। जबकि बची परीक्षाएं रद्द कर दी गई हैं तो माना जा रहा है कि बोर्ड जुलाई के अंत तक परिणाम घोषित कर सकता है।

English

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com