Tuesday - 7 February 2023 - 3:25 AM

पीएम मोदी की भतीजी के साथ हुई छिनैती के बाद आज़म खान का जिक्र क्यों ?

जुबिली न्यूज़ डेस्क

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की भतीजी दमयंती मोदी के साथ राजधानी दिल्ली में शनिवार सुबह हुई छिनैती की घटना को लेकर सियासत शुरू हो गई है। बता दें कि पीएम मोदी की भतीजी दमयंती के साथ हुई स्नैचिंग की वारदात को तो पुलिस ने महज 24 घंटे में 700 पुलिसकर्मी को लगाकर सुलझा दिया है लेकिन अब विपक्ष और जनता ने सोशल मीडिया पर दिल्ली पुलिस से कई सारे सवाल करने शुरू कर दिए है और उनका कहना है कि आम लोगों के साथ हुए स्नैचिंग की वारदातें कब सुलझेंगी।

इतना ही नहीं इस घटना के बाद कुछ लोग आजम खान की भैंस चोरी वाली घटना को लेकर भी सवाल कर रहे हैं।

अब्दुल अजीम नाम के एक ट्वीटर यूजर ने लिखा है कि, आजमखान की भैंस पे रायता फैलाने वालों दोगलो जिंदा हो कि चल बसे

क्या है आजम खान की भैंस चोरी का मामला

साल था 2014 में प्रदेश में अखिलेश यादव की सरकार थी। तब आज़म खान की भैंसे चोरी हो गयी। और भैंसों को ढूंढने के लिए रामपुर की पुलिस काम्बिंग करने लगी। आज़म खान की भैंसों को ढूंढने में पूरा प्रशासन जुट गया था। प्रशासन ने कड़ी मशक्कत के बाद भैंसों और उनके चोर को पकड़ने में सफलता पाई थी। इस पूरे घटनाक्रम को लेकर उस समय की सियासत खूब गरमाई थी। विपक्ष के नेताओं ने तब यही सवाल खड़े किए थे कि आखिर संगीन और गम्न्भीर मामलों में सोए रहने वाला प्रशासन भैंसों को लेकर जितना सक्रिय है इतना ही आम आदमी के लिए क्यों नहीं।

सीसीटीवी फुटेज के आधार पर दमयंती मोदी से लूट की घटना का हुआ खुलासा

दिल्ली पुलिस ने पहले नोनू नाम के एक आरोपी को गिरफ्तार किया। हालांकि बाद में पुलिस ने दूसरे आरोपी बादल को भी गिरफ्तार कर लिया है। सीसीटीवी फुटेज के आधार पर पुलिस ने नोनू नाम के बदमाश को सोनीपत से पकड़ा है। यह पहाड़गंज नबी करीम का रहने वाला है। पुलिस ने आरोपी की निशानदेही पर पीएम मोदी की भतीजी दमयंती बेन के पर्स में मौजूद सारा सामान भी बरामद कर लिया है।

लूट मामले में डीसीपी नार्थ मोनिका भारद्वाज ने प्रेस कॉन्फ्रेंस की। उन्होंने बताया कि शनिवार को एक स्नेचिंग केस हुआ था। हमारी टीम ने एक गौरव उर्फ नोनू 21 साल को हरियाणा के सोनीपत से गिरफ्तार किया है। उससे 66 हजार कैश, दो मोबाइल फोन और कुछ डॉक्यूमेंट बरामद किए हैं। वारदात में इस्तेमाल स्कूटी बरामद कर ली है।

शुरुआती जानकारी में पता चला है कि आरोपी पीएम मोदी की भतीजी को एक किलोमीटर पहले से टारगेट करते हुए आ रहे थे। मोनिका भारद्वाज ने कहा कि शनिवार को सिविल लाइन में ट्रैफिक पुलिस तैनात नहीं थी। यह दुर्भाग्यपूर्ण है। इसलिए बिना हेलमेट लगाकर बदमाश सदर बाजार से सुल्तानपुरी तक वापस चले गए।

यह भी पढ़ें : राहुल गांधी ने कहा- पूरा देश जानता है कि राफेल मामले में चोरी हुई है

यह भी पढ़ें : दहेज में बुलेट नहीं मिली तो पति ने काट दी पत्नी की नाक

यह भी पढ़ें : दादा बन सकते है BCCI के नये अध्यक्ष, जय शाह हो सकते है सचिव

English

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com