Saturday - 28 January 2023 - 5:16 AM

UP में खेल प्राधिकरण बनने पर योगी की हो रही तारीफ़, मोहसिन रज़ा बोले- खिलाड़ियों के विकास के लिए मील का पत्थर साबित होगा

जुबिली स्पेशल डेस्क

लखनऊ। खेल संघों के प्रतिनिधियों से मिले महत्वपूर्ण सुझावों पर अमल करते हुए उत्तर प्रदेश खेल नीति को अंतिम रूप दिया गया है और जल्द ही इस नीति को कैबिनेट के समक्ष प्रस्तुत किया जाएगा।

यह जानकारी गुरुवार को गोमती नगर स्थित बाबू बनारसी दास बैडमिंटन अकादमी में खेल नीति को अंतिम रूप दिये जाने के लिए खेल संघों के साथ आयोजित बैठक की अध्यक्षता करते हुए प्रदेश के खेल एवं युवा कल्याण राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) गिरीश चन्द्र यादव ने दी।

उन्होंने कहा कि नई खेल नीति के लागू होने पर ग्रामीण अंचलों से खेल प्रतिभाओं को चिन्हित कर उन्हें प्रशिक्षण के साथ खेल से संबंधित सभी सुविधाएं दी जाएगी।

उन्होंने कहा कि खेल गतिविधियों से संबंधित खेल कैलेंडर तैयार कराने के साथ अन्य राज्यों की तरह यहां भी खेल प्राधिकरण गठित होगा और प्रदेश में खिलाड़ियों के लिए राज्य स्तरीय प्रशिक्षण संस्थान भी खुलेगा।

सरकार के इस कदम की हर कोई तारीफ कर रहा है। पूर्व क्रिकेटर और योगी सरकार में मंत्री रहे और उत्तर प्रदेश राज्य हज समिति के अध्यक्ष एवं हज कमेटी ऑफ इंडिया के सदस्य मोहसिन रज़ा ने यूपी सरकार के इस कदम की जमकर तारीफ की है। मोहसिन रज़ा ने मीडिया को बताया कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ द्वारा लिए गए अद्भुत एवं ऐतिहासिक निर्णय उत्तर प्रदेश में भी अब भारतीय खेल प्राधिकरण की तरह उत्तर प्रदेश खेल प्राधिकरण बनाए जाने का निर्णय जिसका हम सभी खेल जगत के लोगों के साथ साथ तमाम प्रदेश की जनता की तरफ से मुख्यमंत्री के इस निर्णय का स्वागत करते हैं।

उन्होंने कहा कि ये कदम अत्यंत प्रशंसनीय एवं लाभदायक है जिसके लिए हम मुख्यमंत्री को धन्यवाद अर्पित करते हैं यह निर्णय खेल एवं खिलाड़ियों के उत्थान के लिए अति उत्कृष्ट है एवं उत्तर प्रदेश में खेलों एवं खिलाड़ियों के विकास के लिए मील का पत्थर साबित होगा।

उत्तर प्रदेश में सबसे अधिक मात्रा में खिलाड़ी रहते हैं जोकि अत्यंत प्रतिभावान भी हैं ऐसे में इस निर्णय से उन खिलाड़ियों को उच्च स्तर की प्रशिक्षण राजकीय खेल प्रशिक्षण संस्थानों के गठन अधिक मात्रा में स्टेडियम निजी क्षेत्रों के संस्थाओं को सरकारी खेल स्टेडियम में खेलने का मौका मिलेगा।

English

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com