Saturday - 3 December 2022 - 3:18 PM

महिला को ताना मारना पड़ा भारी, लिया भयानक बदला, 4 साल के मासूम को…

जुबिली न्यूज डेस्क

उत्तर प्रदेश के सिद्धार्थनगर से एक हैरान कर देने वाला मामला सामने आया है. घटना जिले के मोहाना थाना क्षेत्र बेलहारी गांव की है. जहां राजेश चौरसिया के 4 साल के मासूम सनी की हत्या करने के आरोप में पुलिस ने गांव की ही ज्योति यादव और उसके पिता राम मिलन यादव को गिरफ्तार कर लिया, और पुलिस ने इस मामले की खुलासा कर दिया है.

जानकारी के मुताबिक -आरोपी ज्योति ने पुलिस को बताया कि सनी की बड़ी मां उसे ताने मारती थी, अपशब्द कहती थी, इसलिए उससे बदला लेने के लिए उसने सनी की हत्या कर दी. ज्योति ने बताया कि उसने दुपट्टे से गला दबाकर सनी की हत्या की और शव को बोरी में भरकर घर के अंदर ही बॉक्स में छिपा दिया था. ज्योति ने सनी के गले और कमर पर मौजूद लॉकेट और करधन को नोनाहवा कस्बे में स्थित एक सर्राफा व्यापारी को मात्र 1700 रुपए में बेच दिया था, जिसे पुलिस ने बरामद कर लिया.

सनी का शव ज्योति के घर से बरामद

बताया गया कि रविवार की दोपहर में शनि अपने चचेरे भाई आर्यन के साथ ज्योति के घर खेलने गया था. थोड़ी देर बाद आर्यन घर वापस आ गया लेकिन उसके साथ सनी नहीं आया. सनी जब देर शाम घर वापस नहीं आया तो परिजनों ने उसकी तलाश शुरू की. जब काफी देर तक सनी नहीं मिला तो उसके गुमशुदगी की सूचना पुलिस को भी दी गई. घटना की जानकारी मिलने पर पुलिस ने भी सनी की तलाश शुरू कर दी. पुलिस की छानबीन के दौरान सनी का शव ज्योति के घर में एक बक्से के अंदर बोरे में भरकर रखा हुआ मिला.

ऐसे हुआ ज्योति पर संदेह

सनी के गुमशुदगी की सूचना पाकर पुलिस जब गांव में पहुंची तो आर्यन के साथ ज्योति के घर गई. पुलिसकर्मियों को देखकर ज्योति हड़बड़ा गई और एक बॉक्स की तरफ घबराकर देखने लगी. बॉक्स को रस्सी से बांधा गया था इससे पुलिस को संदेह हुआ. पुलिस ने बॉक्स को खोलकर देखा तो दंग रह गई. उसमें सनी का शव रखा हुआ था. मासूम सनी दो भाइयों में सबसे बड़ा था. उसके छोटे भाई की उम्र महज दो माह है. बड़े बेटे की हत्या के बाद मां बेहोशी की हालत में है. पिता राजेश चौरसिया और गांव के अन्य लोगों के मन में बड़े बेटे के हत्या की बात गले नहीं उतर रही है. राजेश चौरसिया ने कहा उनकी किसी से दुश्मनी नहीं थी फिर भी उसके बेटे की हत्या कर दी गई.

ये भी पढ़ें-एस. जयशंकर ने लगाई अमेरिका की क्लास, कहा- किसी को मूर्ख नहीं बना सकते

ज्योति ने जुर्म कबूला

ज्योति ने जुर्म कबूला और कहा कि ज्योति यादव ने मासूम के बड़ी मां के ताने और अपशब्द की वजह से उसकी हत्या कर दी. उसने शव को बोरे में भरकर एक बक्से के अंदर छिपा दिया था. पुलिस अधीक्षक ने कहा पुलिस की पूछताछ में ज्योति ने जुर्म को कबूल कर लिया है. फिलहाल पुलिस आगे की कार्रवाई कर रही है.

ये भी पढ़ें-अखिलेश यादव बीजेपी से लड़ने को बनाएंगे नई टीम, बनेगा ये बड़ा प्लान

English

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com