Thursday - 6 May 2021 - 6:34 PM

जब शव के पास ही चलता रहा कोरोना मरीजों का इलाज

जुबिली न्यूज़ डेस्क

ग्वालियर। मध्य प्रदेश के ग्वालियर में स्वास्थ्य विभाग की संवेदनहीनता तब देखने को मिली जब जिला हॉस्पिटल मुरार में कोरोना पीड़ित मरीज की मौत हो गई और उसका शव 24 घंटे से ज्यादा बिस्तर पर ही पड़ा रहा।‌ समय बीत जाने के बावजूद भी अस्पताल के किसी भी कर्मचारी ने उस शव को बेड से नहीं उतारा। बताया जा रहा है कि यह मरीज अज्ञात है।

ये भी पढ़े:सप्लायर कोर्ट को बताएं किस अस्पताल को कितनी आक्सीजन दी

ये भी पढ़े: हिंदी को बेचैन कर गए कुंवर

जानकारी के मुताबिक कोरोना संक्रमित पाये के बाद पाए जाने के बाद उसे जिला अस्पताल में भर्ती कराया था। इसकी जानकारी जब कांग्रेस विधायक सतीश सिकरवार को लगी तो उन्होंने अस्पताल प्रशासन को फोन पर कहा कि एक आदमी का शव पड़ा हुआ है और दूसरों की जिंदगी खतरे में है उसे हटा दें तो किसी और की जान बच सकती थी। इसके बाद अस्पताल प्रशासन हरकत में आया और मृतक के शव की सुध ली।

ये भी पढ़े:UP में कोरोना विस्फोट: 24 घंटे में 35156 नए मामले, 258 की मौत

ये भी पढ़े: कोर्ट का केंद्र से सवाल- एमपी को मांग से ज्यादा ऑक्सीजन, दिल्ली को कम क्यों?

English

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com