Sunday - 11 April 2021 - 11:51 PM

हार के बाद पहली बार सामने आए ट्रंप ने क्या कहा?

जुबिली न्यूज डेस्क

महाभियोग की जांच में बरी होने के कुछ सप्ताह बाद पूर्व राष्ट्रपति  नाल्ड ट्रंप सार्वजनिक रूप से सामने आए। उन्होंने कन्जर्वेटिव पॉलिटिकल एक्शन कॉन्फ्ऱेंस (सीपीएसी) में ट्रंप ने पहला भाषण दिया है।  में ट्रंप ने कहा कि वो नई राजनीतिक पार्टी नहीं बनाएंगे।

मालूम हो कि महाभियोग में ट्रंप के खिलाफ कुछ रिपब्लिकन सांसदों ने भी वोट किया था।

फ्लोरिडा में आयोजित सीपीएसी की कॉन्फ्ऱेंस में ट्रंप ने अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन पर हमला बोलते हुए कहा कि ‘अमेरिका फ़र्स्ट’ की नीति ‘अमेरिका लास्ट’ में पहुंच गई है।

सीपीएसी सालाना कॉन्फ्ऱेंस है, जिसमें अमेरिका भर के रूढि़वादी नेता हिस्सा लेते हैं।

इस कॉन्फ्ऱेंस का तेवर ट्रंपमय दिखा। इसमें शामिल वक्ताओं में पूर्व राष्ट्रपति ट्रंप के वफादार और टेक्सस से सीनेटर टेड क्रूज के अलावा उनके बेटे डोनाल्ड ट्रंप जूनियर भी थे।

ट्रंप के समर्थकों को पूरी उम्मीद थी कि वह सीपीएसी में जरूर बोलेंगे, क्योंकि राष्ट्रपति पद से हटने के बाद से ट्रंप राजनीतिक रूप से बिल्कुल गायब थे।

इतना ही नहीं जनवरी महीने में यूएस कैपिटल में हुई हिंसा के बाद से ट्रंप ट्विटर और फेसबुक समेत कई सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर अब भी प्रतिबंधित हैं। ट्रंप व्हाइट हाउस छोडऩे के बाद से फ्लोरिडा गोल्फ रिसॉर्ट में रह रहे हैं।

क्या कहा ट्रंप ने?

पूर्व राष्ट्रपति डोनॉल्ड ट्रंप मंच पर एक घंटे से अधिक देर से पहुंचे। उनके पहुंचते ही उनके समर्थकों में जोश आ गया। भीड़ में ज्यादातर लोग बिना मास्क के थे।

इस मौके पर ट्रंप ने कहा, ”मैं आपको ये बताने आया हूं कि आज से चार साल पहले जो हमने यात्रा शुरू की थी वो खत्म नहीं हुई है। हम यहां अपने भविष्य के बारे में बात करने के लिए आए हैं। हमारे अगले कदम का भविष्य, हमारी पार्टी का भविष्य और इस प्यारे मुल्क का भविष्य।”

नई राजनीतिक पार्टी बनाने की अटकलों को ट्रंप ने खारिज करते हुए कहा कि यह फर्जी खबर है। उन्होंने कहा कि नई पार्टी बनाने से हमारे वोट बंटेंगे और हम कभी जीत नहीं पाएंगे।

ये भी पढ़े : फिर बढ़े रसोई गैस के दाम, यहां जाने नई लिस्ट

ये भी पढ़े : 120 सालों में दूसरी बार रही सबसे गर्म फरवरी

ये भी पढ़े : क्या इस स्टार की मौत में उद्धव के मंत्री का है हाथ 

ट्रंप ने कहा, “हमलोग सभी रिपब्लिकन पार्टी के हैं और पार्टी पहले से अधिक मजबूत और एकजुट होगी।” ट्रंप ने इस भाषण में उस फर्जी दावे को दोहराया कि नवंबर में हुए राष्ट्रपति चुनाव में धांधली के कारण वे हार गए।

ट्रंप ने फिर से 2024 के राष्ट्रपति चुनावी में आने के संकेत दिए। उन्होंने कहा, ”आप जानते हैं कि हम व्हाइट हाउस में नहीं हैं। लेकिन कौन जानता है… कौन जानता है? मैं उन्हें तीसरी बार मात देने का भी फैसला कर सकता हूँ।”

उन्होंने कहा कि, ”हम सब जानते हैं कि जो बाइडन प्रशासन क्या करने वाला है, लेकिन इस हद तक इस सरकार में बुरा होगा इसकी कल्पना किसी ने नहीं की थी। यह सरकार इस हद तक वामपंथी एजेंडे के साथ जाएगी, ये किसी को अंदाजा नहीं था।”

ये भी पढ़े : मोदी की तारीफ में क्या बोले आजाद?

ये  भी पढ़े : राम मंदिर निर्माण : अब तक इतने करोड़ इकट्ठा हुआ चंदा

मालूम हो अमेरिका में पिछले सप्ताह ही एक सर्वे हुए था। इस सर्वे के नतीजों के मुताबिक अगर ट्रंप कोई तीसरी पार्टी बनाते हैं तो उनके 46 प्रतिशत वोटर्स साथ आएंगे न कि किसी रिपल्बिकन उम्मीदवार को को वोट देंगे। ऐसी अटकलें पहले से ही तेज हैं कि 74 साल के ट्रंप ने अपने राजनीतिक भविष्य के लिए कोई योजना बना रखी है।

सीपीएसी गुरुवार से अलैंडो के हयात रीजेंसी होटेल में शुरू हुई है। ट्रंप के कई वफादार इस सम्मेलन में शरीक नहीं हुए हैं। सीनेटर जोश हैवली, रिप्रेजेंटेटिव मैट गेज और पूर्व उपराष्ट्रपति माइक पेंस सीपीएसी में नहीं आए।

ये भी पढ़े : खाने पीने की चीजों में की मिलावट तो भुगतना होगा ये अंजाम 

ये भी पढ़े : पीएम मोदी ने लगवाई कोरोना वैक्सीन की पहली डोज

English

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com