Friday - 19 August 2022 - 1:55 PM

ममता के मंत्री पर बम से हमला, CID जांच शुरू

जुबिली न्यूज़ डेस्क

मुर्शिदाबाद में एक रेलवे स्टेशन के बाहर बम से हुए हमले में जख्मी पश्चिम बंगाल के मंत्री जाकिर हुसैन को कोलकाता शिफ्ट किया गया है। बुधवार को हुए हमले में वह बुरी तरह से जख्मी हो गए थे, जिसके बाद उन्हें मुर्शिदाबाद के ही एक अस्पताल में एडमिट कराया गया था।

दूसरी ओर विधानसभा चुनाव से पहले बंगाल की जंग में लगातार खतरनाक होती जा रही है। अब जाकिर हुसैन पर हुए हमले की जांच बंगाल CID के हाथ में पहुंच गई है।

गुरुवार सुबह सीआईडी की एक टीम मुर्शिदाबाद में उस जगह पहुंची, जहां पर मंत्री पर बम से हमला किया गया. इस मामले में सीआईडी ने केस दर्ज कर लिया है, साथ ही इस बात की जांच शुरू कर दी गई है। सीआईडी अब इस चीज को खंगालने में जुटी है कि पेट्रोल बम कैसे आया।

सीएम ममता बनर्जी हमले में घायल मंत्री से मिलने हॉस्पिटल पहुंची हैं। मुर्शिदाबाद मेडिकल कॉलेज एंड हॉस्पिटल के वाइस प्रिंसिपल एक बेरा ने बताया, ‘हुसैन को कोलकाता ले जाया गया है। उन्हें एसएसकेएम अस्पताल के ट्रामा केयर सेंटर में भर्ती कराया जाएगा। उनकी हालत स्थिर है। शरीर के बाएं हिस्से में उन्हें काफी जख्म आए हैं।’

पश्चिम बंगाल की ममता सरकार में डिप्टी लेबर मिनिस्टर जाकिर हुसैन पर मुर्शिदाबाद के निमतिता रेलवे स्टेशन पर बुधवार को रात 9:45 बजे बम से हमला हुआ था। इस हमले में उनके अलावा एक दर्जन से ज्यादा समर्थक भी जख्मी हुए हैं। अब तक इस मामले में किसी की गिरफ्तारी नहीं हो सकी है।

Image result for ममता के मंत्री पर बम से हमला

कहा जा रहा है कि हुसैन समेत करीब 17 लोग जख्मी हुए हैं। सभी पीड़ितों को पहले जंगीपुर के सरकारी अस्पताल में एडमिट कराया गया था, लेकिन बाद में उन्हें मुर्शिदाबाद मेडिकल कॉलेज में शिफ्ट किया गया। अस्पताल प्रशासन ने बताया है कि मंत्री जाकिर हुसैन के अलावा कम से कम 5 लोग और ऐसे हैं, जिन्हें कोलकाता ले जाया गया है।

बम हमले में जख्मी लोगों में एक दो लोगों के पैरों में बुरी तरह से चोट है। वहीं एक शख्स को अपना हाथ गंवाना पड़ा है। एक सीनियर पुलिस अधिकारी ने बताया कि मामले की जांच के लिए एक स्पेशल टीम गठित की गई है। अब तक किसी की गिरफ्तारी नहीं हुई है। पूछताछ के लिए कुछ लोगों को हिरासत में लिया गया है। यह घटना निमतिता रेलवे स्टेशन के प्लेटफॉर्म पर हुई थी। इसके चलते रेल प्रशासन ने एक ट्रेन के रूट में बदलाव कर दिया था, लेकिन अब स्थिति सामान्य है।

ये भी पढ़े :आखिर कहां हैं उत्तर कोरिया के शासक किम जोंग उन की पत्नी?

ये भी पढ़े: 120 साल बाद असम में देखा गया दुनिया का सबसे सुंदर बत्तख 

बीते कुछ सालों में यह पहली घटना है, जब पश्चिम बंगाल के किसी मंत्री पर इतना भीषण हमला हुआ है। हिंसक राजनीतिक झड़पों के लिए कुख्यात हो चुके बंगाल में इस घटना से एक बार फिर राजनीतिक पारा चढ़ सकता है। हमले में घायल हुए मंत्री जाकिर हुसैन 2016 में टीएमसी के टिकट पर जंगीपुर विधानसभा सीट से जीते थे। इससे पहले वह कांग्रेस पार्टी में थे।

 

English

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com