Monday - 27 January 2020 - 3:32 AM

हैदराबाद के बाद उन्नाव में रेप पीड़िता को जिंदा जलाया, लखनऊ रेफर

न्‍यूज डेस्‍क

हैदराबाद में महिला के साथ हुए वीभत्स घटना के बाद पूरे देश आक्रोश का माहौल है। संसद से लेकर सड़क तक यही मांग हो रही है कि रेप के आरोपियों को फांसी की सजा दी जाए। इसके अलावा रेप से जुडे कानून को सख्‍त बनाने के लिए लखनऊ से लेकर दिल्‍ली तक जनता सड़क पर उतर कर प्रदर्शन कर रही है। इसके बावजूद महिलाओं के सुरक्षा को लेकर न तो पुलिस गंभीर है और नही सरकार।

उत्‍तर प्रदेश की सीएम योगी आदित्‍यनाथ बार-बार अपनी पीठ थपथपाते हैं कि उन्‍होंने प्रदेश की कानून व्‍यवस्‍था को सही कर दिया है, लेकिन महिलाओं से जुडे अपराध लगातार बढ़ रहे हैं। संभल में एक नाबालिग किशोरी को रेप के बाद जिंदा जलाने का मामला शांत भी नहीं हुआ था कि उन्नाव में एक बार फिर मानवता शर्मशार हुई है और यूपी की मित्र पुलिस मात्र मुख दर्शक बनकर देखती रही।

यहां गुरुवार को एक रेप पीड़िता को जमानत पर छूट कर आए दो आरोपियों ने अपने तीन साथियों के साथ मिलकर जिंदा जला दिया। जानकारी के अनुसार,  5 आरोपियों ने गांव के बाहर खेतों में युवती को जलाने की कोशिश की। मामले के 5 आरोपियों में से 3 आरोपियों को पकड़ लिया गया और जबकि 2 की तलाश जारी है। युवती 90 फीसदी जल चुकी है और उसकी स्थिति गंभीर बताई जा रही है.

सूचना पर पहुंची पुलिस ने युवती को गंभीर हालत में जिला अस्पताल भेजा, जहां उसकी गंभीर हालत को देखते हुए डॉक्टरों ने लखनऊ के ट्रामा सेंटर रेफर कर दिया।

क्‍या है मामला 

बिहार थानाक्षेत्र के हिन्दुनगर गांव की है। कुछ दिन पहले ही युवती के साथ रेप हुआ था। इस मामले में दो नामजद आरोपियों को गिरफ्तार कर जेल भेजा गया था। आज युवती इसी मामले की पैरवी के लिए रायबरेली जा रही थी। सुबह चार बजे के करीब गांव के बाहर खेत में दोनों आरोपी व उसके तीन साथियों ने उसके ऊपर मिटटी का तेल छिड़ककर आग लगा दी।

इसकी सूचना मिलते ही गांव में हड़कंप मच गया। सूचना पर पुलिस भी मौके पर पहुंची और पीड़िता को जिला अस्पताल पहुंचाया गया। जहां से उसे लखनऊ ट्रामा सेंटर रेफर किया गया है।

गंभीर रूप से झुलसी पीड़िता ने अपने बयान में दोनों आरोपियों का नाम लिया है। मामले में पुलिस ने कार्रवाई करते हुए तीन आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है।

डीजीपी ओपी सिंह ने कहा कि यह बहुत दुर्भाग्यपूर्ण घटना है। पीड़िता को जलाया गया है। उसे बचाने के लिए हरसंभव कोशिश की जा रही है। उसे लखनऊ रेफर किया गया है। मामले में कार्रवाई करते हुए तीन आरोपी हरीशंकर द्विवेदी, शुभम द्विवेदी, शिवम द्विवेदी को गिरफ्तार किया गया है।

एक अन्य आरोपी फरार है। पुलिस सभी की कॉल डिटेल्स खंगाल रही है। हमने पीड़िता का स्टेटमेंट भी लिया है जो केस में बहुत महत्वपूर्ण होगा। डीजीपी ने बताया कि कोर्ट के आदेश के बाद रायबरेली में यह मुकदमा दर्ज हुआ था।

प्रियंका गांधी ने साधा निशाना

इस दर्दनाक घटना पर कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने भी रोष व्यक्ति किया है। उन्होंने एक ट्वीट में लिखा, कल देश के गृह मंत्री और उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री ने साफ-साफ झूठ बोला कि यूपी की क़ानून व्यवस्था अच्छी हो चुकी। हर रोज ऐसी घटनाओं को देखकर मन में रोष होता है। बीजेपी नेताओं को भी अब फर्जी प्रचार से बाहर निकलना चाहिए।

Loading...
English

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com