Thursday - 2 December 2021 - 11:30 AM

बीस साल की उम्र और ये खौफनाक फैसला

जुबिली न्यूज़ ब्यूरो

नई दिल्ली. हरियाणा के रोहतक जिले में शुक्रवार को चार लोगों की हत्या के मामले ने पुलिस की नींद उड़ा दी थी. चार दिन तक हवा में हाथ पैर मारने के बाद अंतत: पुलिस इस सामूहिक हत्याकांड के मास्टरमाइंड तक पहुँच गई. बीस साल के इस मास्टरमाइंड तक पहुँचने के बाद पुलिस के भी होश उड़ गए क्योंकि यह मास्टरमाइंड कोई और नहीं बल्कि परिवार का सबसे ख़ास सदस्य था. इसने भाड़े के हत्यारों से अपने माँ-बाप, बहन और नानी की हत्या करवाई थी.

पुलिस की पूछताछ में हत्यारोपित बेटे अभिषेक ने बताया कि उसके माँ-बाप ने अपनी सारी सम्पत्ति अपनी बेटी के नाम पर कर दी थी. बहन के नाम सारी सम्पत्ति हो जाने से बौखलाए अभिषेक ने पहले इस बात का अपने घर में विरोध किया लेकिन जब उसने देखा कि उसके विरोध का कोई असर ही नहीं हो रहा है तब उसने पूरे परिवार को साफ़ कर देने का खौफनाक फैसला किया.

शुक्रवार की दोपहर में रोहतक के विजय नगर इलाके में यह खौफनाक वारदात हुई. जिस वक्त हत्यारे घर में घुसे अभिषेक के पिता प्रदीप मालिक फोन पर किसी से बात कर रहे थे. हत्यारों ने घर में घुसते ही ताबड़तोड़ गोलियां चलाईं. प्रदीप मालिक, उनकी पत्नी और सास की मौके पर ही मौत हो गई. पुलिस जब घर पहुंची तो बेटी नेहा की साँसें चल रही थीं. उसे तत्काल अस्पताल ले जाया गया लेकिन इलाज के दौरान उसने भी दम तोड़ दिया.

यह भी पढ़ें : तीर्थस्थलों के पास मांस-मदिरा को रोकेंगे सीएम योगी

यह भी पढ़ें : बाज़ार लगने से खुश व्यापारी मौलाना के स्वागत को पहुंचे तो मौलाना ने ही कर दिया स्वागत

यह भी पढ़ें : जिप्सी सवार महिलायें पर्यटकों को दिखाएंगी कार्बेट पार्क में वन्यजीव

यह भी पढ़ें : डंके की चोट पर : क़ानून के राज की कल्पना तो बेमानी है

अभिषेक बीए फर्स्ट इयर का छात्र है. उसकी उम्र अभी सिर्फ बीस साल है. सम्पत्ति के लालच में उसने अपने ही आशियाने में आग लगा ली. अपने परिवार में वही अकेला रह गया है. जिस सम्पत्ति के लालच में उसने रिश्तों का खून बहा दिया, वो अब उसके किसी काम की नहीं है क्योंकि उसकी बाकी की ज़िन्दगी जेल में कटने वाली है.

English

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com