Monday - 30 January 2023 - 1:35 PM

टूर्नामेंट का है टोटा तो प्रतिभा कहां से मिले

सैय्यद मोहम्मद अब्बास

लखनऊ। बीते कुछ सालों से यूपी क्रिकेट लगातार गर्त की ओर बढ़ रहा है। आलम तो यह है कि घरेलू क्रिकेट में यूपी क्रिकेट फिसड्डी साबित हुई। बीते पांच सालों में यूपी क्रिकेट रणजी के रण में कमजोर प्रदर्शन के चलते चर्चा में बना रहा है। हालांकि मौजूदा रणजी सीजन में यूपी की टीम ने सेमी फाइनल का सफर तय किया था लेकिन उससे पूर्व यूपी क्रिकेट का और बुरा हाल था। यूपी क्रिकेट के खराब प्रदर्शन के पीछे कई कारण रहे हैं लेकिन सबसे बड़ा कारण है निचले स्तर पर क्रिकेट का बंद होना। इसके साथ ही लगातार नई प्रतिभाओं का टोटा भी देखा जा सकता है। राजधानी लखनऊ में ए डीविजन क्रिकेट अब न के बराबर रह गई। नौबत तो यहां तक आ गई है कि लखनऊ की टीम के चयन के लिए खिलाडिय़ों को प्रदर्शन नहीं बल्कि ट्रायल देना पड़ता है। इसके पीछे सबसे बड़ा कारण है कि ए-डीविजन के टूूर्नामेंट का न होना। इस वजह से खिलाडिय़ों के प्रदर्शन को नहीं आंका जा सका है।

ए-डीविजन के बंद होने से खिलाड़ियों का हो रहा बड़ा नुकसान

लखनऊ में ए डीविजन क्रिकेट के नाम पर केवल अब लखनऊ क्रिकेट एसोसिएशन ही करा रहा है। इसके आलावा कोई और टूर्नामेंट नहीं हो रहे हैं। लखनऊ क्रिकेट को नजदीक से जानने वालों का मानना है कि अगर टूर्नामेंट नहीं होगा तो टैलेंट कैसे सामने आयेगा। इससे पहले किसी भी टूर्नामेंट के लिए लखनऊ की टीम का चयन ए डीविजन क्रिकेट के आधार किया जाता था लेकिन इसके बंद होने से लखनऊ की टीम का चयन ट्रायल पर आधारित हो गई है। इस वजह से खिलाडिय़ों का नुकसान होता है। जब मैच ही नहीं होंगे तो खिलाड़ी कैसे अपनी प्रतिभा को दिखायेगा। जानकार मानते हैं कि ए डीविजन क्रिकेट ही लखनऊ क्रिकेट का भविष्य होता है।

ये टूर्नामेंट बंद हो चुके हैं 

हाल के दिनों में लखनऊ में कई टूर्नामेंट बंद हो चुके हैं। अगर बात बीते सत्र 2018-19 की बात की जाये तो लखनऊ डीविजन के नाम पर कई टूर्नामेंट बंद हो चुके हैं। हालांकि अभी तक क्रिकेट एसोसिएशन लखनऊ के नाम पर केवल बीबीडी क्रिकेट लीग-ए डीविजन हुई, जबकि होली के बाद गुरुचरण कौर सहनी स्मारक क्रिकेट प्रतियोगिता का आयोजन किया जायेगा। ये टूर्नामेंट ए डीविजन में आता है। वहीं सीएल ट्रॉफी और टिम्बर ट्रॉफी कई सालों से बंद है। इन दोनों टूर्नामेंट में लखनऊ के बड़े खिलाड़ी अपना जौहर दिखाते थे।
बंद हुए टूर्नामेंट : सीएल ट्रॉफी, सैय्यद अजीउद्दीन स्मारक क्रिकेट टूर्नामेंट, अनवरी बेगम नफीसा बानो स्मारक टूर्नामेंट, सैय्यद तौकीर हसन स्मारक टूर्नामेंट हाल के दिनों में बंद है। उधर स्कूली क्रिकेट के नाम पर अब ज्यादा कुछ नहीं हो रहा है। स्कूली ट्रॉफी इस सत्र में अभी तक नहीं हुई है।

क्या कहना है क्रिकेट एसोसिएशन लखनऊ का

क्रिकेट एसोसिएशन लखनऊ के सचिव खलीक मुख्तार खान ने कहा कि सीएल शुरू से कई ए डीविजन करा रहा है। उन्होंने बताया कि इस सत्र में सुबोध स्मारक क्रिकेट, शम्सी स्मारक क्रिकेट और बीबीडी लीग करायी जा चुकी है। इसके आलावा सीएल ने दो और टूर्नामेंट की इजाजत दी है। उन्होंने कहा कि खिलाडिय़ों के भविष्य को देखते हुए सीएल ने बहुत दिनों से बंद चल रही टिम्बर ट्रॉफी और सागर ख्यामी टूर्नामेंट कराने का आदेश दिया है। इसके अलावा सीएल बहुत जल्द अंडर-19 का स्टेट टूर्नामेंट भी कराने जा रहा है। उन्होंने यह भी कहा कि हर साल की तरह जेकेपी ट्रॉफी भी करायी जायेगी। खिलाडिय़ों को ज्यादा से ज्यादा टूर्नामेंट खेलने का अवसर मिले इसके लिए लखनऊ के हर क्लब को ए डीविजन क्रिकेट कराने के लिए कहा गया है। कुछ अकादमी ने टूर्नामेंट कराने का भरोसा भी जताया है। एलसीए, एलडीए और अखिल इंफ्रा ने टूर्नामेंट कराने की हामी भर दी है। उन्होंने कहा कि उम्मीद है कि एक बार फिर यूपी क्रिकेट के फलक पर लखनऊ चमकेगा।

English

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com