Sunday - 29 January 2023 - 10:21 PM

योगी का गढ़ बचाने को ‘चाणक्य’ का आखिरी अस्त्र

मल्लिका दूबे

गोरखपुर। सूबे के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का गढ़ बचाने के लिए भाजपा के चाणक्य यानी राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने बृहस्पतिवार को रोड शो के रूप में आखिरी अस्त्र का इस्तेमाल किया। गोरखपुर में सपा- बसपा के गठबंधन से तगड़ी चुनौती से जूझ रही भाजपा ने एक बड़े इवेंट के रूप में की गयी रोड शो की प्लानिंग इस तरह से और ऐसे रूट पर की जिससे ‘भाजपा मजबूत है’ का मैसेज दिया जा सके।

मुस्लिम बहुल इलाकों में रोड शो का मकसद क्या

गोरखपुर में अमित शाह का रोड शो मुस्लिम बहुल इलाकों से गुजरा। टाउनहाल से शुरू रोड शो रेती, नखास, अलीनगर होते हुए विजय चौराहे पर संपन्न हुआ। रेती, नखास और अलीनगर रूट पर मुस्लिम आबादी बहुतायत में निवास करती है। 2.5 किलोमीटर के रोड शो में प्लानिंग के तहत भीड़ जुटाकर बीजेपी के शीर्ष नेतृत्व ने यह मैसेज देने की कोशिश की अपने गैर वोटर वर्ग में भी बीजेपी प्रभावी है।

जानबूझकर चुना गया तंग रास्ता

अमित शाह के रोड शो का रूट अपने तंग रास्ते की वजह से जाना जाता है। यह गोरखपुर शहर का वह कारोबारी इलाका है जहां रास्ता संकरा होने की वजह से लगभग रोज ही जाम की समस्या रहती है। ऐसे में यहां थोड़ी सी भीड़ भी देखने में लंबा शक्ल अख्तियार कर लेती है। चूंकि कार्यक्रम राष्ट्रीय अध्यक्ष का था इसलिए इस रूट का जानबूझकर चुना गया ताकि पूरा रास्ता खचाखच भरा दिखे।

चूंकि जब भी कोई इवेंट होता है तो हर खास ओ आम तमाशबीन हो जाता है। रूट कारोबारी इलाके का था, जहां नीचे दुकान और ऊपर मकान वाली स्थिति है। ऐसे में रोड शो देखने को दुकानदार दुकान के बाहर निकले तो वहां मकानों में रहने वाले अपनी छतों पर।

जबरदस्त इवेंट मैनेजमेंट

भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह के होने वाले रोड शो का रूट पूरी तरह भाजपामय करने की जोरदार तैयारियां हुई। रास्तेभर केसरिया गुब्बारे से सजावट की गयी, ढोल, नगाड़ा, तुरही बजाए गए। काशी से डमरू बजाने को कलाकार भी बुलाए गए थे। सरकार की योजनाओं की झांकियां भी सजायी गयी।

रोड शो में कुल पांच रथ बनाए गए जिसमें बीच के एक रथ पर अमित शाह, यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ, केंद्रीय वित्त राज्यमंत्री शिवप्रताप शुक्ल, भाजपा प्रत्याशी रवि किशन और तमाम विधायक सवार रहे। अमित शाह के रोड शो से पहले ही भाजपा की तरफ से 1000 युवा कार्यकर्ताओं को नमो टी-शर्ट बांटी गयी। साथ ही 1500 महिला कार्यकर्ताओं को भगवा साड़ी में भगवा छतरी लेकर रोड शो में चलने को कहा गया। रोड शो के दौरान जमकर टोपियां भी बांटी गयीं।

पुष्पवर्षा के लिए घरों पर पहले ही पहुंचा दिये फूल

रोड शो के रास्ते में पड़ने वाले घरों पर भाजपा कार्यकर्ताओं ने पहले ही फूल पहुंचा दिये थे। ताकि रास्ते में यह नजारा पेश हो सके कि अमित शाह के रोड शो में जनता स्वत: स्फूर्त पुष्पवर्षा कर रही है। स्थानीय फ्लावर सप्लायरों के अलावा काशी से भी फूल पहले ही मंगा लिए गए थे।

English

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com