Monday - 1 June 2020 - 6:36 AM

80 हजार कर्मचारी इसलिए ले सकते हैं वीआरएस

न्यूज़ डेस्क

नई दिल्ली। सरकार द्वारा राहत पैकेज मिलने के कुछ ही दिनों के भीतर संकट से जूझ रही सार्वजनिक क्षेत्र की कंपनी बीएसएनएल ने अपने कर्मचारियों के लिए वीआरएस योजना पेश की है। बीएसएनएल को उम्मीद है कि करीब 70 से 80 हजार कर्मचारी इसका लाभ उठा सकते हैं और इससे कंपनी को वेतन में लगभग सात हजार करोड़ रुपए की बचत होगी।

बीएसएनएल के चेयरमैन और प्रबंध निदेशक पीके पुरवार ने कहा कि वीआरएस योजना 4 नवंबर से 3 दिसंबर तक चलेगी। बीएसएनएल की सभी इकाइयों को अपने कर्मचारियों को वीआरएस सुविधा की जानकारी देने के निर्देश जारी कर दिए गए हैं। बीएसएनएल के कुल 1.5 लाख कर्मचारियों में से करीब एक लाख कर्मचारी वीआरएस के पात्र हैं।

ये भी पढ़े: पत्नी के अवैध सम्बंधों से परेशान पति ने क्यों उठाया ऐसा कदम!

पुरवार ने कहा कि सरकार और बीएसएनएल की ओर से दी जा रही यह श्रेष्ठ वीआरएस सुविधा है और इसे कर्मचारियों को सकारात्मक रूप में देखना चाहिए। गौरतलब है कि केंद्र सरकार ने पिछले महीने ही 69 हजार करोड़ रुपये का पुनरुद्धार पैकेज बीएसएनएल और एमटीएनएल को दिया था। एमटीएनएल ने भी अपने कर्मचारियों के लिए वीआरएस योजना पेश की है।

ये भी पढ़े: बर्थडे मना रही छात्राओं से छेड़छाड़, भीड़ ने पकड़कर की धुनाई

बीएसएनएल स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति योजना-2019 के अनुसार कंपनी के सभी नियमित और स्थायी कर्मचारी जिनमें अन्य संगठन में प्रतिनियुक्ति पर तैनात या बीएसएनएल से बाहर प्रतिनियुक्ति के आधार पर तैनात कर्मी भी शामिल होंगे और जिनकी उम्र 50 वर्ष या उससे अधिक हो चुकी है वे वीआरएस योजना का लाभ ले सकते हैं।

योजना के तहत वीआरएस लेने वाले व्यक्ति को नौकरी के पूर्ण हो चुके प्रति वर्ष के आधार पर 35 दिन का वेतन और नौकरी के शेष बचे प्रति वर्ष के आधार पर 25 दिन के वेतन की राशि मिलेगी।

ये भी पढ़े: बैंकों के अमीर अधिकारियों पर RBI की लगाम, खराब परफॉर्मेंस पर घटेगी सैलरी!

English

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com