गोरखपुर में बनी फिल्म ने जीते दुनियाभर में 10 फिल्म पुरस्कार, 17 जून को होगी रिलीज

जुबिली न्यूज ब्यूरो   

यूपी में फिल्मो की शूटिंग तो खूब हो रही है लेकिन पूर्वांचल के  गोरखपुर में पूरी तरह बनी पहली हिंदी फीचर फिल्म “सस्पेंडेड” ने दुनिया भर के फिल्म फेस्टिवल्स में अपनी धाक जमा ली है. फिल्म के निर्देशक प्रदीप सुविज्ञ  इस फिल्म को  17 जून 2022 को  गोरखपुर के सिनेमा हॉल में रिलीज कर रहे हैं.

प्रदीप सुविज्ञ के निर्देशन में बनी इस फिल्म को अब तक 10 अंतर्राष्ट्रीय पुरस्कार प्राप्त हो चुके हैं , जिसमे  लंदन में आयोजित यूरोप फिल्म फेस्टिवल में — सर्वश्रेष्ठ फिल्म ,रोम अंतरराष्ट्रीय फिल्म समारोह में -सर्वश्रेष्ठ फिल्म , इस्तांबुल फिल्मअवार्ड्स में -सर्वश्रेष्ठ फिल्म ,वर्ल्ड फिल्म कार्निवाल सिंगापुर– सर्वश्रेष्ठ फिल्म, कांस वर्ल्ड फिल्म फेस्टिवल- फाइनलिस्ट, पेरिस फ़िल्म फेस्टिवल -नॉमिनी ,पैराडाइज फिल्म फेस्टिवल (हंगरी)- ऑफिशियल सिलेक्शन,  रोम इंटरनेशनल फिल्म फेस्टिवल -सर्वश्रेष्ठ निर्देशक (प्रथम फ़िल्म), लॉस एंजेलिस मोशन पिक्चर्स फेस्टिवल -सर्वश्रेष्ठ फिल्म, और  लॉस एंजेलिस मोशन पिक्चर फेस्टिवल -सर्वश्रेष्ठ लो बजट फिल्म के रूप में फिल्म को अलग पहचान मिली है.

फिल्म के निर्माता निर्देशक प्रदीप सुविज्ञ ने बताया कि इस फिल्म को बनाने में 6 वर्ष का समय लग गया। पूरी शूटिंग हमने गोरखपुर में की है ,सारे लोकेशन गोरखपुर के हैं ,सभी कलाकार भी गोरखपुर के हैं, फिल्म के गीत लिखे हैं गोरखपुर के मशहूर शायर महेश अश्क तथा  बीएचयू के प्रोफेसर वशिष्ठ अनूप ने।

पहली बार किसी फिल्म के गीतों की रिकॉर्डिंग ,संगीत निर्देशन तधा बैकग्राउंड म्यूजिक शहर के संगीतकार केके सिंह ने गोरखपुर स्थित अपने स्टूडियो मे किया है। फिल्म की एडिटिंग राष्ट्रीय ख्याति प्राप्त एडिटर असीम सिन्हा  हैं ।इन्होंने प्रसिद्ध फिल्म निर्देशक श्याम बेनेगल की अधिकांश फिल्मों की एडिटिंग की है । साउंड मिक्सिंग देवव्रत शालिया एवं कलर करेक्शन तथा डी आई मलय रे ने किया है।

फिल्म के निर्देशक प्रदीप सुविज्ञ एक जाने माने कार्टूनिस्ट भी हैं और जुबिली पोस्ट में उनके कई कार्टून प्रकाशित होते रहे हैं.

फिल्म का विषय व्यवस्था में व्याप्त भ्रष्टाचार पर केंद्रित है ।हास्य व्यंग से भरपूर लगभग 2 घंटे की यह फिल्म एक ऐसे ईमानदार सरकारी कर्मचारी की कहानी है जो व्यवस्था में व्याप्त भ्रष्टाचार का हिस्सा बन तो जाता है मगर भीतर से कभी स्वीकार नहीं कर पाता । अंत में वह एक मध्यम मार्ग निकालता है ।अब सामने नई तरह की चुनौतियां आकर खड़ी हो जाती हैं ।इस फिल्म में जिन कलाकारों ने अभिनय किया है उनमें नवनीत जयसवाल, शिवानी यादव ,अनूप स्वामी, संजय रैना ,रतन सिन्हा, मीनाक्षी पांडे, अजीत सिन्हा, उदयन मुखर्जी , तन्वी सिंह, धानी गुप्ता, रफत, अशोक महर्षि, मुकुल खरे, वंदना श्रीवास्तव, रवि अवस्थी, रविशंकर खरे, राजकिशोर, अमर श्रीवास्तव, अर्पिता, पीयूष, संतोष श्रीवास्तव आदि शामिल है.

English

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com