Sunday - 1 August 2021 - 6:28 PM

सूर्य को लगेगा आज ग्रहण, जानें क्या होगा असर

जुबिली स्पेशल डेस्क

नई दिल्ली। इस साल का पहला सूर्य ग्रहण बुधवार को लग रहा है। इसके साथ ही 15 दिनों के अंदर ये दूसरा ग्रहण है। हालांकि इस ग्रहण को लेकर ज्योतिष ने अपनी अलग राय रखी है।

उनके अनुसार इतने कम समय के अंतराल पर पडऩे वाले ग्रहण को अशुभ माना जाता है। इस साल कुछ चार ग्रहण लगने वाले हैं। वहीं दो सूर्य ग्रहण और 2 चंद्र ग्रहण। पहला चंद्र ग्रहण 26 मई को लग चुका है जबकि दूसरा चंद्र ग्रहण 19 नवंबर को लगेगा। वहीं 10 जून के बाद दूसरा सूर्य ग्रहण 4 दिसंबर को लगेगा।

NASA और Timeanddate.com दोनों ने सूर्य ग्रहण के दीदार के लिए लाइव स्ट्रीम लिंक जारी किया है. इसके जरिए दुनिया भर के लोग इस अद्भुत खगोलीय घटना का आनंद उठा सकेंगे. आप भी नीचे दिए लिंक से इस ग्रहण को देख सकते हैं.

जानकारी के मुताबिक ये ग्रहण दोपहर 1 बजकर 42 मिनट पर लगेगा और शाम 6 बजकर 41 मिनट पर खत्म होगा। ज्येष्ठ मास की कृष्ण पक्ष की अमावस्या तिथि है और शनि जयंती और वट सावित्रि व्रत भी है

यह सूर्य ग्रहण उत्तरी अमेरिका, यूरोप, एशिया में नजर आयेगा। दूसरी ओर ग्रीनलैंड, उत्तरी कनाडा और रूस में पूर्ण सूर्य ग्रहण नजर आयेगा। नासा के अनुसार भारत में सिर्फ लद्दाख और अरुणाचल प्रदेश में सूर्य ग्रहण दिखायी पड़ेगा।

अरुणाचल प्रदेश के वन्यजीव अभयारण्य के पास भी सूर्य ग्रहण का नजारा देखने को मिलेगा. यह भारतीय समयानुसार शाम 5 बजकर 52 पर देखा जाएगा।

क्या हैं सूतक के नियम

जानकारी के मुताबिक सूर्य ग्रहण का सूतक ग्रहण से 12 घंटे पहले शुरू होगा। शास्त्रों की माने तो जिस ग्रहण दिखायी देगा वहीं पर सूतक के नियम वहीं माने जाते हैं। ऐसे में सूर्य ग्रहण के नियम अरुणाचल प्रदेश के उस हिस्सों में ही लागू होंगे जहां ये ग्रहण दिखाई देगा। बाकी भारत में सूतक के कोई नियम मान्य नहीं होंगे।

स्वास्थ्य के लिहाज से अच्छा नहीं है सूर्य ग्रहण

सूर्य ग्रहण के चलते कुछ लोगों को आंखों से जुड़ी समस्याएं होने की बात कही जा रही है। कहा तो यह भी जा रहा है कि सूर्य ग्रहण स्वास्थ्य के लिहाज से अच्छा नहीं बताया जा रहा है।

सूर्य पिता और सरकारी क्षेत्र का कारक भी है।शनि देव सूर्य पुत्र है। आज देश में शनि जयंती मनाई जा रही है और इधर पिता सूर्य पर ग्रहण लग रहा है।

माना जा रहा है कि ऐसा संयोग 148 साल बाद बन रहा है। इस वजह से सूर्य ग्रहण के चलते जनता और सरकार के बीच आपसी विश्वास की कमी आ सकती है। वहीं, पारिवारिक जीवन में पिता के स्वास्थ्य में कमी के कारण कई लोग दिक्कत हो सकती है।

  • साल का पहला सूर्य ग्रहण 2021 पड़ रहा है। जो दोपहर 1 बजकर 42 मिनट से शुरू हो जायेगा और शाम 6 बजकर 41 मिनट तक रहेगा ।
  • शनि जयंति 2021 है. मान्यता है कि शनि देव का जन्म आज ही हुआ था।
  • अखंड सौभाग्य और पति की लंबी आयु के महिलाएं वट सावित्री व्रत 2021 रख रही हैं।
  • वट वृक्ष की पूजा की जा रही है।
  • पितरों की आत्मा के शांति के लिए दिन अच्छा माना जाता है।
  • सूर्य पूजा और पवित्र नदी में डूबकी लगाकर पाप को नाश के लिए लोग कामनाएं करते है।
English

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com