Thursday - 4 March 2021 - 3:09 PM

अखिलेश बोले- खायें क्या, बचाएं क्या?

जुबिली न्‍यूज डेस्‍क

देश में पेट्रोल और डीजल की कीमतों में लगातार हो रही वृद्धि को लेकर सियासी दल विरोध दर्ज कराने लगे है। उत्‍तर प्रदेश में समाजवादी पार्ट के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने मंगलवार को तेल के दामों में बढ़ोत्तरी को लेकर कटाक्ष किया। अखिलेश यादव ने कहा कि आमदनी घट रही है, तनख़्वाह कट रही है, खायें क्या, बचाएं क्या?

इस बीच सोशल मीडिया साइट ट्वीटर पर #YA_को_पलटाएंगे_AY_को_लाएंगे ट्रेंड कर रहा है। इससे पहले बसपा सुप्रीमो मायावती ने पेट्रोल और डीजल की कीमत में हुई वृद्धि को लेकर केंद्र सरकार पर निशाना साधा। उन्होंने ट्वीट किया कि देश में पेट्रोल, डीजल व रसोई गैस जैसी जरूरी वस्तुओं की कीमतों में अनावश्यक ही अनवरत वृद्धि की जा रही है।

ऐसे में कोरोना प्रकोप, बेरोजगारी व महंगाई आदि से त्रस्त जनता को सताना अनुचित है। इस जानलेवा कर वृद्धि के माध्यम से जनकल्याण के लिए धन जुटाए जाने का सरकार का तर्क कतई उचित नहीं है।

मायावती ने कहा कि केन्द्र व राज्य सरकारें अगर पेट्रोल, डीजल आदि पर कर की लगातार मनमानी वृद्धि करके जनता की जेब पर जो भारी बोझ हर दिन डाल रही हैं। उसे तत्काल रोका जाना बहुत ही जरूरी है। वास्तव में यही सरकार का देश की करोड़ों गरीब, मेहनतकश जनता व मध्यम वर्ग पर बड़ा एहसान व भारी जनकल्याण होगा।

ये भी पढ़े : अमेरिका : कोविड-19 से मौतों का आंकड़ा पांच लाख पार, 5 दिनों का शोक

पेट्रोल और डीजल की कीमतों में रोजाना सुबह 6 बजे बदलाव होता है। सुबह 6 बजे से ही नई दरें लागू हो जाती हैं। पेट्रोल डीजल के दाम में एक्साइज ड्यूटी, डीलर कमीशन और अन्य चीजें जोड़ने के बाद इसका दाम लगभग दोगुना हो जाता है। विदेशी मुद्रा दरों के साथ अंतरराष्ट्रीय बाजार में क्रूड की कीमतें क्या हैं, इस आधार पर रोज पेट्रोल और डीजल की कीमतों में बदलाव होता है।

 

English

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com