Sunday - 1 August 2021 - 1:16 AM

तो क्या घटी रही सरकार की कमाई, इस वित्त वर्ष में कितना उधार बढ़ा

जुबिली न्यूज़ डेस्क

नई दिल्ली। देश में कोविड-19 की दूसरी लहर के कारण कई राज्यों में करीब दो महीने से लागू लॉकडाउन से भारी राजस्व संकट के बीच केंद्र सरकार मौजूदा वित्त वर्ष में अबतक 2.1 लाख करोड़ रुपए का कर्ज लिया है, जो एक साल पहले की तुलना में 55 फीसदी अधिक है।

केयर रेटिंग्स के मुख्य अर्थशास्त्री मदन सबनवीस ने कहा कि चुनौती के इस समय में आरबीआई ने बांड पर प्रतिफल का अच्छा प्रबंध किया जिससे सरकार के लिए कर्ज लेने की लागत कम रही।

ये भी पढ़े:BCCI का बड़ा फैसला, यूएई में खेले जाएंगे IPL के बाकी बचे मुकाबले

ये भी पढ़े: केंद्र से योगी सरकार ने कहा-शवों को नदियों में बहाने का है प्रचलन

उन्होंने कहा कि 2.1 लाख करोड़ रुपए का यह कर्ज, पूरे वर्ष के लिए सरकार द्वारा लिए जाने वाले 12.05 लाख करोड़ रुपए कर्ज के बजट अनुमान का 17.5 प्रतिशत तथा पहली क्षमाही के में जुटाए जारने वाले 7.24 लाख करोड़ रुपए के कर्ज का 30 प्रतिशत है।

उन्होंने कहा कि केंद्र द्वारा इस वित्त वर्ष में लिया गया अब तक का कर्ज पिछले साल की समान अवधि की तुलना में 55 प्रतिशत अधिक है। इसके लिए अधिकांश राज्यों में लॉकडाउन के चलते राजस्व में कमी जिम्मेदार है।

ये भी पढ़े:इन तीन शहरों में केवल खेले जाएंगे T20 वर्ल्ड कप के सभी मुकाबले !

ये भी पढ़े: धन्नीपुर मस्जिद ने निर्माण की दिशा में बढ़ाया एक और कदम

English

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com