Friday - 19 August 2022 - 2:39 PM

…तो कोरोना की चौथी लहर आयेगी?

जुबिली न्यूज डेस्क

एक बार फिर देश में कोरोना की चौथी लहर को लेकर सुगबुगाहट तेज हो गई है। कई विशेषज्ञ आशंका जता चुके हैं कि मई-जून में कोरोना की चौथी लहर आ सकती है।

वहीं इस आशंकाओं के बीच यूएन चीफ एंतोनियो गुतारेस ने पूरी दुनिया को आगाह किया है। उन्होंने कहा है कि कोरोना संक्रमण के हर रोज 15 लाख मामले आ रहे हैं। एशिया में बड़े पैमाने पर कोरोना के मरीज मिल रहे हैं, तो वहीं पूरे यूरोप में एक नई लहर फैल रही है।

शुक्रवार को गावी कोवैक्स एडवांस मार्केट कमिटमेंट समिट-2022 में दिए एक वीडियो मैसेज ‘वन वर्ल्ड प्रोटेक्टेड-ब्रेक कोविड नाउ’  में यूएन महासचिव ने कहा, “यह बैठक इस बात की याद दिलाने के लिए अहम है कि कोरोना महामारी अभी खत्म नहीं हुई है। रोजाना औसतन 15 लाख नए मामले सामने आ रहे हैं। एशिया में बड़े पैमाने पर मरीज मिल रहे हैं। पूरे यूरोप में एक नयी लहर फैल रही है।”

यूएन महासचिव के अनुसार, कुछ मुल्कों में कोरोना महामारी की शुरुआत के बाद से मृत्यु दर सबसे अधिक दर्ज की जा रही है।

बकौल गुतारेस, “कोरोना के ओमिक्रॉन वेरिएंट ने सबको हैरत में डाल दिया था और यह इस बात की याद दिलाता है कि अधिक टीकाकरण दर के अभाव में वायरस कितनी जल्दी उत्परिवर्तित होकर फैल सकता है।”

वहीं यूएन महासचिव गुतारेस ने अफसोस जताया कि एक ओर कुछ अधिक आय वाले देश अपने नागरिकों को दूसरी बूस्टर खुराक देने की तैयारी कर रहे हैं, जबकि एक-तिहाई वैश्विक आबादी का टीकाकरण शुरू भी नहीं हुआ है।

यह भी पढ़ें : ‘सिर्फ हलाल मीट और हिजाब ही नहीं, सुशासन भी चाहिए’

यह भी पढ़ें :  विल स्मिथ पर लगा कड़ा प्रतिबंध, ऑस्कर समारोह में नहीं…

उन्होंने आगे कहा, “यह हमारी असमान दुनिया का एक क्रूर सच है। यह नए स्वरूपों के अस्तित्व में आने, अधिक मौतें होने और मानव समाज के लिए आर्थिक दुश्वारियां बढऩे की प्रमुख वजह भी बन रहा है।”

गुतारेस की यह प्रतिक्रिया ऐसे समय में आई हैं, जब औसतन हर 4 महीने पर सार्स-कोव-2 वायरस का एक नया स्वरूप सामने आया है। उन्होंने सरकारों और दवा कंपनियों से हर जगह, हर व्यक्ति तक टीका पहुंचाने के लिए मिलकर काम करने की अपील की।

यह भी पढ़ें : पत्नी की गुहार पर हाई कोर्ट ने सुनाया ऐतिहासिक फैसला

यह भी पढ़ें : मुसलमानों के डर के आगे जीत है !

डब्ल्यूएचओ की साप्ताहिक संक्रमण रिपोर्ट (इस हफ्ते जारी) में उसके 6 क्षेत्रों में 90 लाख से अधिक नए मामले सामने आने और 26,000 से अधिक मौतें होने की जानकारी दी गई।

सभी क्षेत्रों से नए साप्ताहिक मामलों और मौतों की संख्या में घटते रुझान के संकेत मिले। वैश्विक स्तर पर तीन अप्रैल तक 48.9 करोड़ से अधिक मामले दर्ज किए गए हैं और 60 लाख से अधिक मौतें हुई हैं।

English

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com