Thursday - 2 December 2021 - 1:13 PM

वरूण गांधी के समर्थन में आई शिवसेना, कहा-उबल गया इंदिरा के पोते…

जुबिली न्यूज डेस्क

लखीमपुर हिंसा और किसान आंदोलन को लेकर अपनी ही पार्टी के खिलाफ मोर्चा खोलने वाले भाजपा नेता वरुण गांधी को अब शिवसेना का साथ मिल गया है।

सोमवार को शिवसेना ने कहा कि वरुण के समर्थन की तारीफ करते हुए सभी किसान संगठनों को एक प्रस्ताव पारित करना चाहिए।

शिवसेना ने अपने मुखपत्र ‘सामना’ में भाजपा सांसद वरुण गांधी की तारीफ करते हुए भाजपा के अन्य सांसदों से सवाल पूछा कि इंदिरा गांधी के पोते का खून तो खौल उठा और उन्होंने अपना विचार व्यक्त किया लेकिन क्या दूसरे सांसदों के खून में बर्फ का ठंडा पानी बह रहा है?

सामना के लेख में लिखा है, ‘वरुण गांधी भी इंदिरा गांधी के पोते और संजय गंधी के पुत्र हैं। लखीमपुर खीरी की भयंकर घटना को देखकर उनका खून खौल उठा और उन्होंने मत व्यक्त किया, लेकिन अन्य सांसदों के खून में बर्फ का ठंडा पानी बह रहा है क्या?’

इसके आगे लेख में लिखा है, ‘किसानों की हत्या, उनके खून का सैलाब देखकर सत्ताधारी पक्ष के लोगों का खून ठंडा ही पड़ गया होगा तो देश को बचाने के लिए नया स्वतंत्रता आंदोलन खड़ा करना होगा। वरुण गांधी के अभिनंदन का प्रस्ताव सभी किसान संगठनों को करना चाहिए।’

यह भी पढ़ें :  लखीमपुर हिंसा के विरोध में आज महाराष्ट्र बंद 

यह भी पढ़ें : आतंकियों से मुठभेड़ में पुंछ में JCO समेत सेना के 5 जवान शहीद 

शिवसेना ने कहा कि उन्होंने किसानों पर अन्याय का निषेध किया और उसकी कीमत चुकानी पड़ी, तब भी परवाह नहीं की। उन्होंने खुलकर किसानों के आंदोलन का पक्ष लिया।’

यह भी पढ़ें : घातक होता जा रहा है दो सम्प्रदाय में नागरिक और पांच जातियों में तंत्र का बटवारा

यह भी पढ़ें : लोहिया ने मंत्री पद स्वीकार कर लिया होता तो कौन बताता कि विपक्ष भी कुछ होता है

सामना ने लेख में आगे लिखा है, ‘ भाजपा सांसद वरुण गांधी ने खुलकर किसानों के आंदोलन का पक्ष लिया। किसानों को कुचलकर मारनेवाले गुनहगारों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की मांग की। इसमें उन्होंने क्या गलत किया? वरुण गांधी साहस के साथ बोले। औरों का मन इस मुद्दे पर कम-से-कम अंदर-ही-अंदर व्यथित हो रहा होगा। लखीमपुर में किसानों के हत्याकांड को लेकर जो असंख्य लोग वरुण गांधी की तरह अपनी-अपनी भावना निडर होकर व्यक्त नहीं कर सके, ऐसे सभी लोगों के लिए यह आज का ‘महाराष्ट्र बंद’  है।’

English

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com