Tuesday - 29 November 2022 - 5:48 PM

सलमान खुर्शीद का खेल बिगाड़ सकता है सपा-बसपा गठबंधन

गिरीश चन्‍द्र तिवारी  

पूर्व केन्द्रीय मंत्री सलमान खुर्शीद पर कांग्रेस ने विश्वास जताते हुए एक बार फिर फार्रूखाबाद से टिकट दिया है। 2014 के चुनाव में सलमान चौथे नबंर पर थे। 2009 में वह इस सीट पर विजयी रहे थे। दोनों चुनावों में दूसरे और तीसरे नंबर पर सपा और बसपा रही है। चूंकि इस बार सपा-बसपा मिलकर चुनाव लड़ रही है तो सलमान खुर्शीद के लिए यहां लड़ाई कठिन होना तय है।

पिछले चुनाव में कुल 95543 वोट मिलेे 

कांग्रेस ने कल 15 उम्मीदवारों की सूची जारी की थी, जिसमें वरिष्ठï नेता सलमान खुर्शीद का भी नाम था। सलमान खुर्शीद पिछले चुनाव में बुरी तरह हार गए थे। उन्हें कुल 95543 वोट मिला था जबकि बीजेपी प्रत्याशी मुकेश राज  406195 वोट पाकर सांसद बने थे। बीजेपी को 25 प्रतिशत, सपा को 15 प्रतिशत  (255,693) और बीएसपी को 7 प्रतिशत (114,521) वोट मिला था।

हालांकि, 2009 में फार्रूखाबाद सीट से सलमान खुर्शीद विजयी रहे थे और उन्हें कुल 169,351 वोट मिला था। टोटल वोट का 12 प्रतिशत वोट खुर्शीद के खाते में गया, जबकि बीएसपी को 10 प्रतिशत (142,152) और सपा को 9 प्रतिशत (127347) वोट मिला था।

2014 में जहां समाजवादी पार्टी दूसरे नंबर पर और बीएसपी तीसरे नंबर रही थी वहीं 2009 में बीएसपी दूसरे और सपा तीसरे नंबर पर थी। इस बार चुनावी समीकरण बदल गया है। चूंकि सपा और बसपा दोनो मिलकर चुनाव लड़ रही है तो भाजपा हो या कांग्रेस दोनों के लिए यहां राह आसान नहीं होगी।

आजादी के बाद हुए चुनाव में कांग्रेस फर्रुखाबाद सीट पर अब तक 6 बार लोकसभा का चुनाव जीत चुकी है। वहीं बीजेपी 3 और समाजवादी पार्टी 2 बार यहां से चुनाव जीत चुकी है।

हालांकि, सलमान खुर्शीद को प्रियंका गांधी के राजनीति में आने के बाद इस बार कांग्रेस के अच्छे प्रदर्शन की उम्मीद है। उनका कहना है कि प्रियंका गांधी वाड्रा के सक्रिय राजनीति में आने से लोकसभा चुनाव से पहले कांग्रेस कार्यकर्ताओं में जोश भर गया है और पार्टी पर इसका अहम प्रभाव होगा।

खुर्शीद ने कहा, प्रियंका गांधी के आने का तत्काल प्रभाव पहले से ही महसूस किया जा रहा है। उन्होंने पूर्वी उत्तर प्रदेश की प्रभारी पार्टी की नयी महासचिव के बारे में कहा, ”कांग्रेस कार्यकर्ताओं का उत्साह निश्चित ही बहुत ऊंचा है। उन्होंने पार्टी कार्यकर्ताओं में जोश भर दिया है।

 

 

English

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com