Sunday - 29 January 2023 - 12:22 AM

गायत्री को मिल सकता है ‘अमेठी जीत’ का रिटर्न गिफ्ट ?

न्‍यूज डेस्‍क

रेप के आरोप में जेल में सजा काट रहे  पूर्व मंत्री गायत्री प्रजापति इन दिनों फिर से सुर्खियों में हैं। सूत्रों की माने तो लोकसभा चुनाव में अमेठी संसदीय क्षेत्र पर कांग्रेस अध्‍यक्ष राहुल गांधी की हार में अहम भूमिका निभाने वाले गायत्री को स्मृति ईरानी के सपोर्ट करने का फल मिल सकता है।

गायत्री के लिए जब वेकेशन में ही इलाहाबाद हाईकोर्ट की लखनऊ बेंच में स्‍पेशल सुनवाई  शुरु हुई  तो सियासी हलको में  चर्चा का बाज़ार गर्म हो गया । जानकारो का कहना है कि ‘वेकेशन-कोर्ट’ में केवल आपातकालीन (इमरजेंसी) और अत्यंत महत्व के मामलों पर ही सुनवाई हो सकती है।

बलात्कार जैसे गंभीर केस में जमानत के लंबित मामलों पर  आम तौर पर वेकेशन कोर्ट में सुनवाई का कोई प्रावधान नहीं है । गायत्री प्रजापति के बेटे अनिल प्रजापति ने application No.5743/2019, Crime No. 29/2017  पर ‘विशेष’ सुनवाई के लिए कोर्ट से याचिका की है। 8 जुलाई को इस याचिका पर कोर्ट सुनवाई करेगी।

इस याचिका में अनिल ने गायत्री प्रजापति की बीमारी का उल्‍लेख किया है। सूत्रों की माने तो प्रजापति का पक्ष रखने के लिए इलाहाबाद हाईकोर्ट की एक प्रभावशाली महिला वकील लखनऊ बुलाई गईं हैं।

दरअसल, पूर्व खनन मंत्री गायत्री प्रजापति लंबे समय से रेप के आरोप में लखनऊ जेल में हैं। उन पर रेप का आरोप है। गायत्री प्रजापति को पेशाब संबंधी समस्या के साथ प्रोस्टेट की समस्या बताई जा रही है।

लोकसभा चुनाव के दौरान तबीयत ज्‍यादा खराब होने के कारण केजीएमयू में भर्ती कराया गया। इस बीच कांग्रेस नेताओं का आरोप है कि गायत्री को बीजेपी सरकार के कहने पर जेल से बाहर रखा गया।

बता दें कि अमेठी से बीजेपी प्रत्‍याशी स्‍मृति ईरानी ने कांग्रेस अध्‍यक्ष राहुल गांधी को 50 हजार से ज्‍यादा वोटों से हराया है। कांग्रेस का गढ़ कह जाने वाले अमेठी में कांगेस की हार को राहुल गांधी समेत कई नेता पचा नहीं पा रहे हैं।

हालांकि, चुनाव कांग्रेस की समीक्षा बैठक में इस बात का खुलासा हुआ है कि राहुल की हार में गायत्री प्रजापति और उनके परिवार बड़ा हाथ है। गौरतलब है कि लोकसभा चुनाव के पांचवें चरण के दौरान अमेठी में वोटिंग हुई। यहां मतदान के तीन दिन पहले गायत्री प्रजापति को लखनऊ जेल से शहर के केजीएमयू में भर्ती करा दिया गया, जिसके बाद गायत्री  प्रजापति के करीबी लोगों ने अमेठी में स्मृति ईरानी के लिए वोट मांगना शुरू कर दिया। गायत्री प्रजापति के बेटे अनिल प्रजापति ने खुल कर बीजेपी उम्‍मीदवार स्‍मृति ईरानी का प्रचार-प्रसार किया।

गायत्री प्रजापति के बेटे अनिल प्रजापति ने सार्वजनिक रूप से बीजेपी का दामन नहीं थामा है। हालांकि चुनाव के दौरान अमेठी में भीतरखाने वह बीजेपी का सहयोग किया। उनके करीबि‍यों ने  खुले तौर बीजेपी और स्मृति के पक्ष में प्रचार किया। अमेठी में सपा और बसपा ने अपना उम्मीदवार नहीं उतारा था।

बताते चले कि गायत्री प्रजापति रेप के आरोप में लंबे समय से लखनऊ के जेल में बंद हैं। 2017 के विधानसभा चुनाव में बीजेपी ने गायत्री प्रजापति के मुद्दे को लेकर जमकर उठाया था। इसी का नतीजा था कि गायत्री को चुनाव के दौरान छुप-छुपकर प्रचार करना पड़ा था और वोटिंग के बाद उन्हें गिरफ्तार किया गया। इसके बाद से वो जेल में बंद है। गायत्री प्रजापति अमेठी विधानसभा सीट से 2012 में सपा से विधायक चुने गए थे, लेकिन 2017 में बीजेपी से वो हार गए।

English

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com