Friday - 27 November 2020 - 1:31 PM

बच्चो को एक बार फिर पबजी का गुलाम बनाने की तैयारी

जुबिली न्यूज़ डेस्क

नई दिल्ली. पबजी पर बैन की खुशियाँ मनाने वालों के लिए बुरी खबर है. पबजी फिर आ रहा है. नए अवतार में आ रहा है. इस बार उसके नाम के साथ इण्डिया भी जुड़ा होगा लेकिन समझने की बात यह है कि पबजी कारपोरेशन की मूल कंपनी Krafton ही पबजी के नए अवतार वाले बाज़ार को सजाने के लिए 100 मिलियन डालर का निवेश करेगा.

भारत सरकार ने चाइना के एप बंद किये थे तो लाखों माँ-बाप ने इसलिए राहत की सांस ली थी कि पबजी गेम बंद हो गया. इस गेम की वजह से पढ़ाई करने वाले बच्चे रात-दिन इसी गेम से जूझते रहते थे.

पबजी गेम के नए संस्करण पर बहुत तेज़ी से काम चल रहा है. इस संस्करण का नाम होगा पबजी मोबाइल इंडिया. इस खेल को विशेष रूप से भारतीय बाज़ार के लिए तैयार किया गया है.

पबजी कारपोरेशन की मूल कंपनी Krafton भी एस्कार्ट्स के साथ आईटी और मनोरंजन के क्षेत्र को आगे बढाने के लिए भारत में 100 मिलियन डालर का निवेश करने वाली है.

पबजी के बंद होने से स्कूल कालेज के लाखों बच्चो को जो निराशा हुई थी उसे पबजी कारपोरेशन ने फिर से कैश कराने का फैसला किया है. इस बार कहा जा रहा है कि यह गेम पूरी तरह से भारत में तैयार किया जाएगा और भारतीय बाज़ार को ध्यान में रखकर तैयार किया जाएगा. इसका फार्मेट भी अलग होगा लेकिन संदेह इस बात से पैदा होता है कि इसमें पबजी कारपोरेशन की मूल कंपनी Krafton का 100 मिलियन डालर खर्च होगा.

पबजी भारत के लिए कितना बड़ा बिजनेस है इसका अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि पबजी गेम को भारत में फिर स्थापित करने के लिए पबजी कारपोरेशन 100 से ज्यादा कर्मचारी नियुक्त करेगा.

भारत में इसका बाज़ार सजाने के लिए बड़े-बड़े टूर्नामेंट कराएगा. जीतने वालों को बड़े-बड़े पुरस्कार देगा. पबजी के भारत में बढ़ने की रफ़्तार क्या होगी इस पर नज़र रखने के लिए कंपनी लगातार इसका ऑडिट करायेगी.

यह भी पढ़ें : UVSS सिस्टम से लैस हुआ रांची रेलवे स्टेशन

यह भी पढ़ें : फिल्म अभिनेता आसिफ बसरा ने फांसी लगाकर जान दी

यह भी पढ़ें : धनतेरस के दिन इन मंत्रों के जाप करने से नहीं होगी धन-दौलत की कमी

यह भी पढ़ें : डंके की चोट पर : नमस्ते ट्रम्प

भारत सरकार ने जब 118 मोबाइल एप्लीकेशन बैन किये थे तब पबजी भी बैन हो गया था. पबजी बैन हो जाने के बाद भी लाखों लोग उसके पुराने वीडियो अपने मोबाइल में रखे हुए हैं और उसे बार-बार खेलते हैं. इस गेम की बच्चो को लत लगी हुई थी.

बच्चो की इसी लत को बाज़ार बनाकर पैसा कमाने की तैयारी फिर शुरू हो गई है. विदेशी कम्पनी देश में सजाये जा रहे बाज़ार में 100 मिलियन डालर का निवेश करने जा रहा है. यही निवेश बच्चो को एक बार फिर पबजी का गुलाम बनाने की तैयारी कर रहा है.

English

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com