Saturday - 28 January 2023 - 4:03 PM

यूपी, बिहार सहित कई राज्यों में ईवीएम की सुरक्षा में सेंध!

न्यूज डेस्क

ईवीएम पर रार खत्म होने का नाम नहीं ले रहा है। दो दिन बाद चुनाव परिणाम आ जायेगा और इस बीच ईवीएम की सुरक्षा में सेंध की शिकायत आयी है। खबरों के मुताबिक उत्तर प्रदेश, बिहार, पंजाब और हरियाणा में विपक्षी दलों ने इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीनों (ईवीएम) की सुरक्षा में सेंध लगाए जाने की शिकायतें की हैं। हालांकि चुनाव आयोग ने इन्हें आधारहीन बताया है।

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक सोशल मीडिया पर कुछ वीडियो क्लिप वायरल हो रही है। इन वीडियो में एक उत्तर प्रदेश के चंदौली की बताई जा रही है।

इस वीडियो क्लिप में कुछ ईवीएम एक कमरे में उतारी जा रही हैं जो मतगणना के लिए निर्धारित कमरे जैसा लग रहा है। समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ताओं के विरोध के बाद जिला प्रशासन की ओर से बताया गया कि ये ईवीएम मतदान केंद्रों पर आरक्षित रखी गई थीं जो अब लाई गई हैं।

ये भी पढ़े: नितिन गडकरी ने भी एग्जिट पोल्स की विश्वसनीयता पर उठाया सवाल

अफजल अंसारी बैठे धरने पर

उत्तर प्रदेश के गाजीपुर में बहुजन समाज पार्टी के उम्मीदवार अफजल अंसारी और उनके समर्थक उस कमरे के बाहर धरने पर बैठ गए जहां ईवीएम रखी गई हैं। अंसारी का आरोप था कि इस कमरे से कुछ मशीनें एक निजी वाहन से बाहर ले जाने की कोशिश की गई।

हालांकि स्थानीय प्रशासन ने इन आरोपों को खारिज किया है। यूपी के डुमरियागंज में सपा-बसपा के कार्यकर्ताओं ने ईवीएम से भरा एक मिनी ट्रक भी पकड़ा है। ये मशीनें भी कथित तौर पर कहीं ले जाई जा रही थीं। विरोध के बाद ये मशीनें स्टॉन्ग रूम में वापस भेज दी गईं।

ये भी पढ़े: एनडीए की बनेगी सरकार, ईवीएम पर सवाल उठाना गलत: नीतीश कुमार

यूपी के अलावा अन्य राज्यों में भी शिकायत

उत्तर प्रदेश के झांसी, मऊ, मिर्जापुर के अलावा अन्य राज्यों में भी शिकायत की गई है। बिहार में मुख्य विपक्षी पार्टी राष्ट्रीय जनता दल ने आरोप लगाया है कि महाराजगंज और सारण में ईवीएम संदिग्ध तरीके से लाए-ले जाए जाने के मामले सामने आए हैं।

वहीं पंजाब और हरियाणा से भी इसी तरह की शिकायतें मिली हैं। हालांकि इन शिकायतों को चुनाव आयोग ने निराधार बताते हुए कहा है कि ‘सभी ईवीएम और वीवीपैट राजनीतिक दलों के उम्मीदवारों के सामने सील की गई हैं। इस प्रक्रिया की वीडियोग्राफी कराई गई है। इनकी सुरक्षा में संदेह की कोई गुंजाइश नहीं है।’

English

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com