Wednesday - 3 June 2020 - 9:56 PM

नर्सों से अश्लील हरकत करने वाले जमातियों पर NSA

न्‍यूज डेस्‍क

दिल्ली के निजामुद्दीन स्थित मरकज से निकले तबलीगी जमात के लोग देश के कई हिस्सों में कोरोना संक्रमण के प्रसार के लिए जहां जिम्मेदार माने जा रहे हैं, वहीं मेडिकल स्टाफ के साथ इन लोगों की बदसलूकी के कई मामले भी आ रहे हैं।

गाजियाबाद के एमजीएम अस्पताल में क्वारंटाइन में रखे गए 13 जमातियों पर महिला मेडिकल स्टाफ के साथ अश्लील हरकतें करने के आरोप लगे हैं। यह भी आरोप है कि वे बिना पैंट के घूम रहे हैँ, जिससे नर्सों और अन्य लोगों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है।अस्पताल के मुख्य चिकित्सा अधीक्षक (सीएमओ) ने पुलिस से इस बारे में शिकायत दर्ज कराई है। पुलिस मामले की जांच में जुट गई है।

वहीं, गाजियाबाद में नर्सों के साथ अभद्रता मामले में योगी सरकार ने बड़ा फैसला लिया है। तबलीगी जमात के लोगों की चिकित्सा और सुरक्षा में महिला कर्मचारी नहीं लगाई जाएगी। केवल पुरुष कर्मचारी ही तैनात किए जाएंगे। यही नहीं अभद्रता करने वाले तबलीगी जमात के लोगों पर एनएसए की कार्रवाई की जा रही है।

CM योगी ने कहा कि नर्सों के साथ अश्लील हरकत करने वाले जमातियों के साथ पूरी सख़्ती करो और उन्हें कानून का पालन करना सिखाओ। ये मानवता के दुश्मन हैं, इन्होंने जो किया है, वह जघन्य अपराध है, इन पर रासुका (एनएसए) लगाया जा रहा है, हम इन्हें छोड़ेंगे नहीं।

सीएम योगी ने कहा कि इंदौर जैसी घटना यूपी में कहीं नहीं दिखनी चाहिए। इसके लिए कानूनन जो भी कड़ी से कड़ी कार्रवाई करनी हो वो करिए।

इससे पहले  अस्पताल के मुख्य चिकित्सा अधीक्षक ने पुलिस को दिए तहरीर में आरोप लगाया है कि जमाती वार्ड के अंदर अश्लील गाने सुनते हैं । बिना पैंट के घूमते हैं और महिला कर्मचारियों से बीड़ी-सिगरेट तक मांगते हैं। नर्स व अन्य महिला मेडिकल स्टाफ को देखकर फब्तियां भी कसते हैं। उन्होंने अपनी शिकायत में बताया है कि ऐसे हालात में इनका इलाज करना संभव नहीं है।

इस वार्ड में कुल 32 कोरोना संभावित मरीजों को रखा गया है। इनमें 13 लोग मरकज से निकले हैं और इन्हें अस्पताल में क्वारंटाइन किया गया है। अब मुख्य चिकित्सा अधीक्षक की शिकायत पर नगर कोतवाली थाना पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी है। पुलिस अधीक्षक (नगर) डॉ. मनीष मिश्रा ने तहरीर मिलने की पुष्टि की। उन्होंने कहा कि इस संबंध में थाना प्रभारी जांच कर रहे हैं और जल्द ही विधिक कार्रवाई की जाएगी।

बता दें कि इंदौर में भी जमातियों को संरक्षण देने वालों ने मेडिकल स्टाफ पर हमला कर दिया था। दिल्ली में क्वारंटाइन में रखे गए जमात के लोगों पर डॉक्टरों पर थूकने की बात सामने आई थी। उत्‍तर रेलवे के सीपीआरओ दीपक कुमार ने बताया था कि ये सभी लोग पृथक केंद्र में जगह-जगह थूक रहे हैं। इसके साथ ही ये डॉक्‍टरों और कर्मचारियों पर भी थूक रहे हैं। बता दें कि कोरोना वायरस संक्रमित या संदिग्‍ध लोगों के थूकने से इसके संक्रमण के प्रसार का खतरा कई गुना बढ़ जाता है।

English

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com