Sunday - 9 August 2020 - 1:31 AM

हेलो राइड ने लाखों ठगे, पीड़ितों ने चेयरमैन समेत 8 लोगों पर दर्ज कराया केस

न्यूज़ डेस्क

लखनऊ। करोड़ों रुपये हड़पकर भागी हेलो राइड कंपनी के चेयरमैन अभय कुमार कुशवाहा समेत 8 लोगों के खिलाफ 22.57 लाख रुपये हड़पने के आरोप में लखनऊ के विभूतिखंड थाने में केस दर्ज कराया गया है। इंस्पेक्टर राजीव द्विवेदी के अनुसार बाइक किराये पर चलवाने के नाम पर कंपनी ने सैकड़ों लोगों से 500 करोड़ रुपये से अधिक की ठगी की है।

ये भी पढ़े: आखिर क्यों दौड़ी खाली ट्रेन, बिकी सिर्फ एक टिकट

अभय कुमार कुशवाहा व अन्य लोगों के खिलाफ प्रदेश के विभिन्न जनपदों में 150 से अधिक मुकदमे दर्ज हैं। गुरुवार को 13 अन्य पीड़ितों की तरफ से एक नया केस दर्ज करके चेयरमैन समेत अन्य आरोपियों की तलाश की जा रही है।

इंस्पेक्टर ने बताया कि गाजीपुर के अहलादपुर बहेरी निवासी बाबू लाल यादव व उनके अन्य परिचितों ने अप्रैल 2018 में वाराणसी में कंपनी के निदेशक निखिल कुशवाहा से मुलाकात की थी।

ये भी पढ़े: पीएफ घोटालाः ईओडब्ल्यू के कई सवालों के जवाब नहीं दे पाये एपी मिश्रा

निखिल ने सभी को लखनऊ के विभूतिखंड में लेवाना साइबर हाइट्स टॉवर स्थित ऑफिस बुलाया। जहां रिसेप्शनिस्ट ह्रतिका वर्मा उर्फ शिखा ने चेयरमैन अभय कुमार कुशवाहा, निदेशक नीलम वर्मा, राजेश पांडेय समेत अन्य अधिकारियों से मुलाकात कराई।

चेयरमैन अभय कुमार कुशवाहा ने उन्हें बाइक किराए पर चलाने की योजनाओं के बारे में जानकारी दी। बदले में कंपनी उन्हें 12 महीने तक प्रति महीने 9585 रुपया देगी।

चेयरमैन अभय कुमार कुशवाहा

जेल से छूटने के बाद छिपकर रह रहा चेयरमैन

इंस्पेक्टर ने बताया कि बाबू लाल समेत 13 लोगों ने मई 2018 में 37 बाइक चलवाने के लिए कंपनी के खाते में 22.57 लाख रुपये जमा कराए। कुछ लोगों को दो- तीन महीने तक प्रति महीने रुपये दिए गए। बाद में यह सुविधा बंद कर दी गई।

करोड़ों रुपये की ठगी का मास्टरमाइंड अभय कुमार कुशवाहा मूलरूप से कौशांबी का है। विभूतिखंड पुलिस ने 12 मार्च 2019 को उसे गिरफ्तार कर जेल भेजा था।

करीब दो महीने वह जेल में रहा। जमानत पर छूटने के बाद से शातिर अभय कुमार कुशवाहा छिपकर रह रहा है। वह जॉपलिंग रोड स्थित अपनी रीयल एस्टेट कंपनी इनफिनिटी वर्ल्ड इन्फ्रा वेंचर के ऑफिस में भी नहीं आ रहा। विभूतिखंड समेत कई जनपदों की पुलिस उसकी सरगर्मी से तलाश कर रही है।

English

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com