Thursday - 24 September 2020 - 12:51 PM

भाभी को कॉल गर्ल बनाकर पैसा कमाना चाहता था देवर लेकिन

जुबिली न्यूज़ डेस्क

नई दिल्ली। एक महिला की हत्या का सनसनीखेज मामला सामने आया है। यह हत्या महिला के देवर ने चाकू से छाती पर ताबड़तोड़ वार करके की। आरोपी अपनी पत्नी को भी मारना चाहता था, लेकिन वो जान बचाकर भाग निकली। पत्नी का आरोप है कि उसका पति और जेठ लड़कियां सप्लाई करते हैं।

वे इन दोनों से भी देह व्यापार कराना चाहते थे। लेकिन मृतका इससे मना करती थी। परिवार की दोनों महिलाएं अपने पति से दूर अलग-अलग रहती थीं। वहीं आरोपी का कहना है कि भाभी के कारण वो अपनी पत्नी और बच्चे से 4 महीने से दूर था।

ये भी पढ़े: UGC ने कोर्ट से कहा, परीक्षा नहीं हुई तो डिग्रियों को मान्यता नहीं दी जाएगी

ये भी पढ़े: जम्मू-कश्मीर : आतंकवादियों के निशाने पर क्यों है बीजेपी नेता ?

भाभी के उकसाने से ही उसकी पत्नी घर नहीं आ रही थी। बता दें कि भाभी की हत्या के बाद आरोपी चाकू लहराते हुए पत्नी के पीछे दौड़ा था। इस दौरान लोग तमाशा देखते रहे, लेकिन कोई भी आरोपी को पकड़ने आगे नहीं आया। बाद में एक वकील ने पीछा करके आरोपी को पकड़ा।

ये भी पढ़े: अंडमान को मिली सौगात की क्या है खासियत

ये भी पढ़े: गहलोत हैं कांग्रेस के असली चाणक्य

ये मामला हरियाणा के पानीपत से सामने आया है। पुलिस के अनुसार 35 वर्षीय कविता की शादी 12 साल पहले सैंकी उर्फ रोहित से हुई थी। लेकिन लंबे समय से दोनों के बीच मनमुटाव चल रहा था।

इसलिए वो पिछले 7 महीने से अपने पति से दूर देशराज कॉलोनी में जाकर रहने लगी थी। वो ब्यूटी पॉलर चलाती थी। आरोपी की पत्नी प्रिया के अनुसार 4 महीने पहले पति ने उसके साथ मारपीट की।

इसलिए वो अपनी जेठानी कविता के पास जाकर रहने लगी थी। प्रिया ने आरोप लगाया कि उसका जेठ रोहित और पति भरत सेक्स रैकेट चलाते हैं। वे दोनों महिलाओं को भी इस दलदल में धकेलना चाहते थे। कुछ समय पहले भी आरोपी भाभी के घर हमला करने आया था।

आरोपी भरत ने भाभी के छाती पर चाकू से दनादन वार किए। घटना के बाद कुछ लोगों ने महिला के घावों को कपड़े से बांधा और उसे सिविल अस्पताल ले गए। लेकिन उसकी मौत हो गई। कविता के दो बेटे हैं। बड़ा बेटा गौरव 10, जबकि छोटा कृष्ण 6 साल का है। प्रिया की एक बेटी धुव्री है।

ये भी पढ़े: हांगकांग के मीडिया टाइकून को पुलिस ने क्यों गिरफ्तार किया ?

ये भी पढ़े: गहलोत हैं कांग्रेस के असली चाणक्य

English

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com