Wednesday - 18 May 2022 - 8:40 AM

कर्फ्यू में बेजुबान बंदरों को भी पड़े खाने के लाले, तो पुलिस बनी पालनहार

जुबिली न्यूज़ डेस्क

भोपाल। मध्य प्रदेश के निवाड़ी जिले की धार्मिक एवं पर्यटन नगर ओरछा में जंगल के किनारे सड़कों पर भूख से बेहाल बंदरों के लिए ओरछा पुलिस सहारा बन गई। कोरोनाकाल में जहां पुलिस की बर्बरता के मामले सामने आ रहे हैं वहीं निवाड़ी पुलिस की यह पहल काबिले तारीफ है।

ये भी पढ़े:UP में 24 घंटे के भीतर 1031 मीट्रिक टन ऑक्सीजन की हुई रिकॉर्ड आपूर्ति

ये भी पढ़े:ओली के बाद नई गठबंधन सरकार में महंत ठाकुर का पेंच

इस समय पूरे मध्यप्रदेश में कोरोना कर्फ्यू लगा हुआ है और वाहन भी बंद है इस वजह से जंगल के सड़क किनारे घूमने वाले बंदर भी भूखे मरने की हालत में थे। इसको देखकर निवाडी पुलिस अधीक्षक आलोक कुमार सिंह ने ओरछा पुलिस को निर्देश दिये की कोरोना कर्फ्यू में बंदरों के भी खाने का इंतजाम किया जाये।

ये भी पढ़े:यूपी में मरीजों की संख्‍या में लगातार आ रही कमी, 86% हुआ रिकवरी रेट

ये भी पढ़े:UP : हर सांस को संजीदगी से सहेजने की कोशिश

पुलिस एक ओर कोरोना कर्फ्यू का पालन कराने में सख्ती बरत रही है वही भूखे बेजुबान बंदरों का भी ख्याल रख रही है। कोरोना कर्फ्यू के दौरान कोई जानवर भूखा ना रहे इसके लिये ओरछा थाना पुलिस शहर तथा जंगल के किनारे सड़कों पर घूम रहे भूख से बेहाल जंगली बंदरों को चना और फल खिलाते नजर आ रही है। कई दिनों से भूखे इन बंदरोंं को खाना मिला तो मानों उन्हें संजीवनी मिल गई हो।

ये भी पढ़े:शहाबुद्दीन के बेटे ओसामा से RJD नेता तेज प्रताप यादव की मुलाकात के क्या है मायने

ये भी पढ़े:चांद नजर नहीं आया, अब 14 को मनाया जायेगा ईद का त्योहार

English

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com