Friday - 28 February 2020 - 8:27 AM

कोरोना वायरस से चीन में अब तक 41 की मौत, 1300 संक्रमित

न्‍यूज डेस्‍क

चीन से फैले जानलेवा कोरोना वायरस तेजी से दूसरे देशों में भी फैल रहा है। भारत, थाईलैंड, अमेरिका, ताइवान, जापान, वियतनाम, सिंगापुर के बाद अब कोरोना वायरस यूरोप में पहुंच गया है।

फ्रांस में कोरोना वायरस से पीडि़त 3 लोगों की पुष्टि हुई है। फ्रांस की स्वास्थ्य मंत्री एग्नेस बुजिन ने बताया कि पहला मामला साउथवेस्टर्न सिटी में पाया गया। दूसरा केस पेरिस में मिला। करॉना वायरस से संक्रमित तीसरा शख्स पीड़ितों का एक रिश्तेदार है।

चीन में इस वायरस की वजह से 41 लोगों की जान जा चुकी है, वहीं लगभग 1300 मरीज इससे संक्रमित बताए जा रहे हैं। इसमें 237 की हालात बेहद गंभीर है।

दूसरी ओर भारत में अभी तक कोरोना वायरस से संक्रमित किसी शख्‍स की पुष्टि नहीं की गई है, लेकिन कुछ मरीजों की अलग वार्ड बनाकर जांच की जा रही है। बता दें कि जानलेवा कोरोना वायरस का अभी तक कोई विशेष इलाज नहीं ढूंढा जा सका है।

चीन में तेजी से फैल रहे कोरोना वायरस को देखते हुए वहां रहने वाले भारतीय नागरिकों को लेकर सरकार की चिंता भी बढ़ती जा रही है। भारत सरकार लगातार चीन से संपर्क में है, ताकि जरूरत पड़ने पर ना सिर्फ भारतीयों को वहां से निकाला जा सके, बल्कि जब तक वे वहां हैं तब तक उन्हें राशन-पानी की कोई दिक्कत न हो।

बता दें कि वुहान, शियानिंग, ङिाङिायांग समेत 10 शहरों में यह वायरस फैल चुका है, जहां सैकड़ों भारतीय छात्र शिक्षा हासिल कर रहे हैं और उद्यमी भी कारोबार के सिलसिले में वहां जाते-आते रहते हैं।

बीजिंग स्थित भारतीय दूतावास की तरफ से बताया गया है कि दो हेल्पलाइन नंबर भी शुरू किए हैं, जिस पर फोन कर अपने रिश्तेदारों के बारे में जानकारी दी जा सकती है। ये नंबर हैं 8618612083629 और 8618612083617। इन्हें डायल करने से पहले प्लस लगाना होगा।

कोरोना वायरस से पीड़ित मरीजों को तेज बुखार आता है। तेज ठंड लगती है और शरीर कांपने लगता है। सांस लेने में परेशानी होती है और खांसी भी आती है।

बीजिंग स्थित भारतीय दूतावास ने दो टेलीफोन नंबर +8618612083629 और +8618612083617 जारी किए

महाराष्ट्र में छह संदिग्ध मामले मिले

महाराष्ट्र में कोरोना वायरस के छह संदिग्ध मामले सामने आए है। इनमें से तीन मुंबई और तीन पुणें में है। ये सभी लोग हाल ही में चीन और हांगकांग से लौटे हैं। मुंबई में तीनों लोगों को निगम के कस्तूरबा अस्पताल में स्पेशल वार्ड में निगरानी में रखा गया है। इनके ब्लड सैंपल जांच के लिए पुणो स्थित मुंबई के छत्रपति शिवाजी महाराज अंतरराष्ट्रीय हवाईअड्डे पर चीन से आने वाले लोगों की जांच में ये सामने पकड़ में आए। इनमें दो पुरुष और एक महिला है। जो 22 और 23 जनवरी को चीन और हांगकांग से लौटे थे। महाराष्ट्र के अलावा केरल में सात और हैदराबाद में एक संदिग्ध मामला सामने आया है। केरल में अन्य 73 लोगों को उनके घरों में ही चिकित्सीय निगरानी में रखा गया है। लेकिन देश में अभी कोरोना वायरस के एक भी मामले की पुष्टि नहीं हुई है।

क्‍या है कोरोना वायरस

कोरोना वायरस विषाणुओं का एक बड़ा समूह है। ये वायरस सामान्य जुकाम से लेकर श्वास तंत्र की गंभीर समस्या तक पैदा कर सकता है। इससे संक्रमित होने पर व्यक्ति में बुखार, जुकाम, सांस लेने में तकलीफ, थकान, हांफना जैसे लक्षण नजर आते हैं। अभी तक कोरोना वायरस का कोई विशेष इलाज नहीं ढूंढा जा सका है। इस विषाणु से होने वाली बीमारी की रोकथाम के लिए कोई वैक्सीन का भी नहीं खोजी गई है।

 

Loading...
English

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com