Sunday - 11 April 2021 - 3:44 AM

देश में कोरोना संक्रमितों की संख्या 35 हज़ार के पार

पिछले 24 घंटों में 1993 मरीज़ बढ़े

प्रमुख संवाददाता

नई दिल्ली. देश में कोरोना संक्रमितों की संख्या बढ़कर 35 हज़ार 43 हो गई है. पिछले 24 घंटों में सबसे ज्यादा 1993 मरीजों की संख्या बढ़ी है. स्वास्थ्य मंत्रालय के संयुक्त सचिव लव अग्रवाल ने बताया कि पिछले 24 घंटों में 564 मरीज़ ठीक होकर अपने घरों में चले गए हैं लेकिन 72 लोगों को बचाया नहीं जा सका. उन्होंने बताया कि कोरोना वायरस कि वजह से देश में अब तक 1147 लोगों कि मौत हुई है जबकि 8888 लोग स्वस्थ हुए हैं.

श्री अग्रवाल ने बताया कि पिछले 24 घंटों में रिकवरी रेट में भी सुधार हुआ है. अब रिकवरी रेट बढ़कर 25.37 हो गई है. उन्होंने बताया कि कोरोना महामारी को लेकर सरकार बहुत गंभीर है. इससे निबटने के लिए सरकार ने घर-घर में सर्वे कराने का फैसला किया है. मेडिकल टेस्टिंग बढ़ाई जायेगी. जो कोरोना संक्रमित पाए जाएंगे उन्हें अस्पताल में भर्ती कराकर उनका इलाज किया जाएगा.

उन्होंने बताया कि कोरोना संक्रमण के मामले में सबसे ज्यादा संक्रमित मरीजों कि संख्या वाले शहरों को रेड ज़ोन, उससे कम संख्या वाले शहरों को ओरेंज ज़ोन और सबसे कम मरीजों वाले शहरों को ग्रीन ज़ोन में बांटा गया है. देश में इस समय 130 शहर रेड ज़ोन में, 284 शहर ऑरेंज ज़ोन में और 319 शहर ग्रीन ज़ोन में हैं.

स्वास्थ्य मंत्रालय ने लोगों को राय दी है कि सरकार ने कोरोना से बचने के लिए जो सलाह दी है उसका वह सख्ती से पालन करें. खुद के बचाव के लिए चेहरे पर मास्क पहनें. अपने कम्प्यूटर के की बोर्ड और माउस को रोजाना सैनेटाइज़ करें. अपने फोन में आरोग्य सेतु एप को डाउन लोड करें. इसके साथ ही फिजिकल डिस्टेंसिंग के नियम का कड़ाई से पालन करें.

गृह मंत्रालय कि प्रवक्ता पुण्य सलिला श्रीवास्तव ने बताया कि ज़रूरी सामान को ले जाने वाले ट्रकों के लिए किसी पास की ज़रुरत नहीं है. दूसरे राज्यों में फंसे लोगों को लाने के लिए गृह मंत्रालय ने ट्रेनों को चलाने की अनुमति दे दी है. राज्य सरकारों को अपने मजदूरों को लाने के लिए रेलवे बोर्ड से संपर्क करना चाहिए. उन्होंने बताया है कि ज़रूरतमंदों को खाना देने की व्यवस्था कि जा रही है. इसके साथ ही सीमाओं से सटे इलाकों में बीएसएफ कि मदद ली जा रही है.

English

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com