Friday - 7 May 2021 - 11:55 PM

नक्सल हमले में शहीद हुए 22 जवान, 30 से अधिक घायल

जुबिली न्यूज़ डेस्क

छत्तीसगढ़ के बीजापुर में शनिवार को नक्सलियों और जवानों के बीच हुई मुठभेड़ में 22 जवान शहीद हो गए हैं जबकि कई जवान अभी भी लापता बताये जा रहे हैं। बता दें कि शनिवार को नक्सलियों ने 700 से अधिक जवानों को घेरकर हमला किया। इसमें 22 से अधिक जवान मारे गये साथ ही नक्सलियों ने दो दर्जन से अधिक सुरक्षाकर्मियों के हथियार को लूट लिए।

इसके बाद लापता जवानों की तलाश के लिए आज सुबह से सुरक्षाबल का सर्च अभियान चल रहा है। वहीं इस घटना पर  प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, गृह मंत्री अमित शाह और छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल घटना को लेकर दुख व्यक्त किया है। इसके अलावा गृह मंत्री ने बघेल से फोन पर बात कर घटना की जानकारी ली।

इस हमले का आरोप नक्सली कमांडर हिडमा पर लगा है उसपर 25 लाख रूपये का इनाम पहले से ही रखा गया है.  बताया जा रहा है कि नक्सली दो ट्रैक्टर में भर कर जवानों के शवों को ले गये हैं. फ़िलहाल सुरक्षाबलों का सर्च अभियान अभी भी जारी है.

वहीं मुठभेड़ में 15 नक्सलियों के भी मारे जाने की खबर थी। घटनास्थल से एक महिला नक्सली का शव भी बरामद हुआ है। इस हमले में घायल हुए 30 जवानों को बीजापुर के अस्पताल में भर्ती कराया गया है तो वहीं सात जवान रायपुर के अस्पताल में भर्ती किया गया है।

इस मामले में डीआईजी (नक्सल ऑपरेशन) ओपी पॉल ने बताया कि21 जवान शहीद हैं जबकि30 अन्य जवान घायल हुए हैं। वहीं बस्तर के आईजी पी सुंदरराज का कहना है कि शुरुआती सूचना के अनुसार कम से कम 15  नक्सली मारे गए हैं और 20  घायल हैं। लेकिन अभी इसकी पुष्टि करने में थोड़ा और समय लगेगा। इसके अलावा उन्होंने वहां करीब 250 नक्सली मौजूद होने की बात कही।

उधर इस घटना पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जवानों के शहीद होने पर शोक जताया है। पीएम ने ट्वीट कर लिखा कि, ‘मेरी संवेदनाएं छत्तीसगढ़ में शहीद हुए जवानों के परिजनों के साथ है। वीर शहीदों के बलिदान को कभी नहीं भुलाया जा सकेगा। घायलों के शीघ्र स्वस्थ होने की कामना है।’

इसके अलावा हमले को लेकर गृह मंत्री अमित शाह ने ट्वीट किया। उन्होंने कहा कि शहीद जवानों को मेरा नमन है। देश उनके बलिदान को कभी नहीं भूलेगा। अमित शाह ने कहा कि शहीद जवानों के परिवारों के साथ मेरी संवेदनाएं हैं। शांति और विकास के दुश्मनों के खिलाफ हमारी जंग जारी रहेगी।

ये भी पढ़े : ममता के आरोप पर PM का ये कटाक्ष

ये भी पढ़े : लाकडाउन नहीं अब टीकाकरण जरूरी

वहीं, इस घटना के बाद सुरक्षाबलों के शीर्ष अधिकारियों की आपात बैठक बुलाई है। इस बैठक में डीजीपी डीएम अवस्थी, स्पेशल डीजी (एंटी नक्सल ऑपरेशन) अशोक जुनेजा और अन्य सीनियर अधिकारी शामिल हुए थे। यह बैठक रायपुर में हुई थी।

English

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com