Saturday - 4 February 2023 - 7:55 AM

बीजेपी के लिए सियासी मुद्दा बने ‘बापू’, शाह ने भेजा नोटिस  

न्‍यूज डेस्‍क 

भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के राट्रीय अध्‍यक्ष अमित शाह ने राष्ट्रपिता महात्मा गांधी पर विवादित बयान देने के मामले में पार्टी के तीन नेताओं को नोटिस दी है। बीजेपी ने जिन नेताओं को नोटिस दी है उनमें भोपाल से बीजेपी प्रत्‍याशी साध्‍वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर भी शामिल हैं।

इसके अलावा अनंतकुमार हेगड़े और नलिन कतील का नाम शामिल है। इस मुद्दे पर बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने भी टिप्पणी की है।

शुक्रवार को उन्होंने ट्वीट कर कहा- ‘विगत 2 दिनों में अनंतकुमार हेगड़े, साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर और नलीन कतील के जो बयान आये हैं वो उनके निजी बयान हैं, उन बयानों से भारतीय जनता पार्टी का कोई संबंध नहीं है।’

यह भी पढ़ें : पश्चिम बंगाल में सियासी घमासान के बीच ममता के करीबी अफसर को झटका

 

अमित शाह ने लिखा- ‘इन लोगों ने अपने बयान वापस लिए हैं और माफ़ी भी मांगी है। फिर भी सार्वजनिक जीवन तथा भारतीय जनता पार्टी की गरिमा और विचारधारा के विपरीत इन बयानों को पार्टी ने गंभीरता से लेकर तीनों बयानों को अनुशासन समिति को भेजने का निर्णय किया है।’

अमित शाह ने अपने दूसरे ट्वीट में कहा कि ‘अनुशासन समिति तीनों नेताओं से जवाब मांगकर उसकी एक रिपोर्ट 10 दिन के अंदर पार्टी को दे, इस तरह की सूचना दी गयी है.’

यह भी पढ़ें : आतंकवादी सभी धर्मों में होते हैं : कमल हासन

आपको बता दें कि भोपाल से बीजेपी की उम्मीदवार प्रज्ञा सिंह ने पहले राष्‍ट्रपिता महात्‍मा गांधी के हत्यारे नाथूराम गोडसे को ‘देशभक्त’ बताया और विवाद के बाद माफी भी मांग ली।

गुरुवार को प्रज्ञा ने नाथूराम गोडसे को देशभक्‍त बताया था। प्रज्ञा ने कहा था कि ‘नाथूराम गोडसे देशभक्‍त थे, देशभक्‍त हैं और देशभक्‍त रहेंगे।’ प्रज्ञा ने कहा था कि’ नाथूराम गोडसे को आतंकवादी कहने वाले लोग अपने गिरेबां में झांक कर देखें. ऐसे लोगों को इस चुनाव में जवाब दे दिया जाएगा।’

हालांकि देर रात उन्होंने अपने इस बयान पर माफी मांग ली। प्रज्ञा ने ट्वीट किया- ‘मैं नाथूराम गोडसे के बारे में दिये गए मेरे बयान के लिये देश की जनता से माफ़ी माँगती हूँ। मेरा बयान बिलकुल ग़लत था। मैं राष्ट्रपिता महात्मा गांधी जी का बहुत सम्मान करती हूँ।’

इसके बाद केंद्रीय मंत्री अनंत कुमार हेगड़े ने ट्वीट किया था कि गांधी के प्रति नजरिया बदलने की जरूरत है। थोड़ी देर बाद यह कहते हुए सारे ट्वीट्स हटा लिए गए कि हेगड़े का अकाउंट हैक हो गया था।

वहीं बीजेपी नेता नलिन कतील ने गोडसे की तुलना पूर्व प्रधानमंत्री दिवंगत राजीव गांधी से की थी। उन्होंने कहा था कि ‘गोडसे ने एक को मारा, कसाब ने 72 को मारा, राजीव गांधी ने 17 हजार को मारा।’

इसके बाद बीजेपी नेता और प्रवक्ता अनिल सौमित्र ने महात्मा गांधी को पाकिस्तान का राष्ट्रपिता बताया है। मध्य प्रदेश के अनिल सौमित्र ने शुक्रवार सुबह अपने फेसबुक अकाउंट पर लिखा, ‘राष्ट्रपिता थे, लेकिन पाकिस्तान राष्ट्र के। भारत राष्ट्र में तो उनके जैसे करोड़ों पुत्र हुए, कुछ लायक तो कुछ नालायक।’

हालांकि, उन्होंने अपने पोस्ट में महात्मा गांधी तो नहीं लिखा लेकिन संकेत साफ थे। बीजेपी आलाकमान ने इस मामले में कार्रवाई करते हुए अनिल सौमित्र को पार्टी से सस्‍पेंड कर दिया है।

वहीं, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इस मामले पर अपनी पहली प्रक्रिया देते हुए कहा कि भले ही इस मामले में उन्होंने (साध्वी प्रज्ञा, अनंत हेगड़े) माफी मांग ली हो, लेकिन मैं अपने मन से उन्हें कभी भी माफ नहीं कर पाऊंगा।

उन्होंने कहा कि महात्मा गांधी और नाथूराम गोडसे को लेकर जो भी बातें की गईं हैं, वो भयंकर खराब हैं। पीएम मोदी ने कहा कि ये बातें पूरी तरह से घृणा के लायक हैं, सभ्य समाज के अंदर इस प्रकार की बातें नहीं चलती हैं।

वहीं, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इस मामले पर अपनी पहली प्रक्रिया देते हुए कहा कि भले ही इस मामले में उन्होंने (साध्वी प्रज्ञा, अनंत हेगड़े) माफी मांग ली हो, लेकिन मैं अपने मन से उन्हें कभी भी माफ नहीं कर पाऊंगा।

उन्होंने कहा कि महात्मा गांधी और नाथूराम गोडसे को लेकर जो भी बातें की गईं हैं, वो भयंकर खराब हैं। पीएम मोदी ने कहा कि ये बातें पूरी तरह से घृणा के लायक हैं, सभ्य समाज के अंदर इस प्रकार की बातें नहीं चलती हैं।

English

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com