Friday - 27 January 2023 - 7:00 PM

अयोध्‍या विवाद: पूरे देश में सुरक्षा के कड़े इंतजाम, 42 लोग हिरासत में लिए गए

न्‍यूज डेस्‍क

अयोध्या मामले पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले को लेकर राजधानी दिल्ली समेत पूरे देश में सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए हैं। आधी रात के बाद से ही सुप्रीम कोर्ट की तरफ जाने वाली भगवान दास रोड को बैरिकेड लगाकर बंद कर दिया गया और अत्याधुनिक हथियारों से लैस दिल्ली पुलिस के जवानों को तैनात कर दिया गया। सुप्रीम कोर्ट के गेटों के बाहर दिल्ली पुलिस के 500 पुलिसकर्मी और तीन कंपनी अर्धसैनिक बलों को तैनात किया जाएगा।

सुबह 8 बजे तक भगवान दास रोड पर सुप्रीम कोर्ट की तरफ कोई नहीं जा सकता। यहां तक कि सुप्रीम कोर्ट स्टाफ को भी नहीं जाने दिया जा रहा। सुप्रीम कोर्ट के आसपास 3 लेयर सिक्योरिटी का इंतजाम किया गया है। जैसे ही खबर आई कि शनिवार सुबह 10:30 बजे सुप्रीम कोर्ट अयोध्या विवाद पर फैसला देगा, इसके बाद दिल्ली पुलिस के आला अधिकारियों ने सुरक्षा को लेकर एक आपात बैठक की और दिल्ली के तमाम हिस्सों में सुरक्षा को बढ़ाते हुए पेट्रोलिंग में इजाफा किया।

बता दें कि सुबह करीब 9.30 बजे सभी जज कोर्ट पहुंचना शुरू हो जाएंगे। इसके बाद चीफ जस्टिस रंजन गोगोई समेत बेंच के बाकी जज भी वहां पहुंच जाएंगे। ठीक 10.30 बजे सभी पांचों जज बैठ जाएंगे और पांच लिफाफे फाड़े जाएंगे, जिनके अंदर अयोध्या का फैसला है। इसके बाद अयोध्या का फैसला पढ़ा जाएगा।

दूसरी ओर यूपी के सीएम योगी आदित्‍यनाथ ने अपने सारे सरकारी कार्यक्रम रद्द कर दिए हैं। साथ ही सुबह से ही आला अफसरों के साथ बैठक कर रहे हैं। वहीं यूपी के डीजीपी ओपी सिंह ने कहा कि सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए हैं। उन्‍होंने बताया कि अभी तक 42 लोग गिरफ्तार किए गए हैं।

यूपी पुलिस के एडीजी आशुतोष पांडेय ने कहा कि अयोध्या में अर्धसैनिक बल, आरपीएफ, पीएसी की 60 कंपनियों और 1200 पुलिस कॉनस्टेबल, 250 सब-इंस्पेक्टर, 20 डिप्पी एसपी और 2 एसपी तैनात किए गए हैं। इसके साथ ही सुरक्षा निगरानी के लिए डबल लेयर बैरिकेडिंग, 35 सीसीटीवी और 10 ड्रोन लगाए गए हैं।

फैसले को देखते हुए पूरे उत्तर प्रदेश में धारा 144 लागू कर दी गई है। जम्मू कश्मीर में भी धारा 144 लागू है। अलीगढ़ में इंटरनेट पर बैन लगाया गया है, तो देश के कई राज्यों में स्कूल-कॉलेजों में छुट्टी कर दी गई है।

बता दें कि अयोध्या पर फैसले को लेकर मुंबई में 40 हजार पुलिसकर्मियों को तैनात किया गया है. इसमें रिजर्व पुलिस बल के जवान शामिल हैं। इसके अलावा पूरे शहर की सीसीटीवी से निगरानी की जा रही है। मुंबई के खास जगहों पर भारी संख्या में पुलिस फोर्स को तैनात किया गया है।

इसके अलावा महाराष्ट्र में पुलिस ने सोशल मीडिया को लेकर गाइड लाइन जारी किया है। इसमें कहा गया कि अगर कोई भ्रामक मैसेज व्हॉट्सऐप ग्रुप में डालता है तो उसके लिए एडमिन को जिम्मेदार माना जाएगा और उसके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

English

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com