Thursday - 2 February 2023 - 7:10 PM

प्रमुख प्रयोगशालाओं में वैज्ञानिकों के 2911 पद खाली

न्यूज डेस्क

देश में सरकारी नौकरियों का हाल किसी से छिपा नहीं है। 20 लाख से ज्यादा पद रिक्त पड़े हैं और सरकार भर्ती न कर आउटसोर्सिंग से काम चला रही है। वहीं देश की प्रमुख 70 प्रयोगशालाओं में 2911 पद रिक्त पड़े हैं।

इन रिक्त पदों पर सरकार का कहना है कि जब भी कोई पद खाली होता है तब संबंधित प्रयोगशाला या संस्थान में वैज्ञानिकों के खाली पदों को भरने के लिए नियमों के अनुरूप कदम उठाये जाते हैं। वैज्ञानिकों के रिक्त पदों की जानकारी संसद में पृथ्वी एवं विज्ञान मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने दी।

लोकसभा में भाजपा सांसद रामचरण बोहरा ने संसद के हाल में सम्पन्न सत्र के दौरान देश के शीर्ष वैज्ञानिक संस्थानों में रिक्त पड़े वैज्ञानिकों के पदों का संस्थान-वार ब्यौरा मांगा था। उन्होंने पिछले पांच वर्षो में देश में महिला वैज्ञानिकों को प्रोत्साहित करने की पहल के बारे में भी जानकारी मांगी थी।

इसके जवाब में डॉ. हर्षवर्धन ने सरकारी आंकड़ों का हवाला देते हुए बताया था कि देश की 70 प्रयोगशालाओं में वैज्ञानिकों के 2911 पद खाली हैं।

इसमें सीएसआईआर की पुणे स्थित राष्ट्रीय रसायन प्रयोगशाला में वैज्ञानिकों के 123 पद रिक्त हैं, जबकि गोवा स्थित राष्ट्रीय समुद्र विज्ञान संस्थान में 100 पद, बेंगलुरु स्थित केंद्रीय चतुर्थ प्रतिमान संस्थान में 177, हैदराबाद स्थित भारतीय रसायन प्रौद्योगिकी संस्थान में 102 पद, कोलकाता स्थित भारतीय रसायन जीव विज्ञान संस्थान मे 77 पद, नई दिल्ली स्थित जीनोम एवं समेकित जीव विज्ञान संस्थान में 84 पद और जम्मू स्थित भारतीय समेकित चिकित्सा संस्थान में 95 पद खाली हैं। सीएसआईआर मुख्यालय में वैज्ञानिकों के 92 पद रिक्त हैं।

आंकड़ों के मुताबिक सीएसआईआर के मैसूर स्थित केंद्रीय खाद्य प्रौद्योगिकी अनुसंधान संस्थान में वैज्ञानिकों के 111 पद रिक्त हैं तो पिलानी स्थित केंद्रीय इलेक्ट्रॉनिक इंजीनियरिंग संस्थान में 92, लखनऊ स्थित केंद्रीय औषधि अनुसंधान संस्थान में 65 पद, चेन्नई स्थित केंद्रीय चर्म अनुसंधान संस्थान में 50 पद, नैनीताल स्थित आर्यभट्ट प्रेक्षण विज्ञान अनुसंधान संस्थान में 28 पद, कोलकाता स्थित बोस संस्थान में 35 पद, लखनऊ स्थित बीरबल साहनी पुरावनस्पति विज्ञान संस्थान में 25 पद, बेंगलूर स्थित भारतीय खगोल भौतिकी संस्थान में 14 पद तथा मोहाली स्थित राष्ट्रीय कृषि खाद्य जैव प्रौद्योगिकी संस्थान में वैज्ञानिकों के 92 पद खाली हैं।

वहीं सीएसआईआर के रूड़की स्थित केंद्रीय भवन अनुसंधान संस्थान में वैज्ञानिकों के 50 पद तथा भोपाल स्थित उन्नत सामग्री एवं प्रसंस्करण अनुसंधान में 60 पद रिक्त हैं।

वहीं महिला वैज्ञानिकों के प्रोत्साहन पर विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी मंत्रालय ने बताया कि पिछले पांच वर्षो में महिला वैज्ञानिक योजना के तहत 1800 से अधिक महिला वैज्ञानिकों एवं प्रौद्योगिकीविदों को सहायता प्रदान की गई है।

यह भी पढ़ें : VIDEO: 10 राज्यों में बाढ़ से ‘आफात’काल, देवदूत बनकर पहुंचे जवान

यह भी पढ़ें :  अनुच्छेद 370 हटाना हमारा आंतरिक मसला

English

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com