Saturday - 3 December 2022 - 5:29 PM

मोदी सरकार ने आज लिए ये 3 बड़े फैसले, सभी के लिए बड़ी खुशखबरी

जुबिली न्यूज डेस्क

त्योहारी सीजन शुरू हो गया है। जिसे लेकर केन्द्र सरकार बड़े तोहफे देने जा रही है। मोदी सरकार ने बुधवार को तीन बड़े फैसले लिए हैं. केंद्रीय कैबिनेट की बैठक में लिए गए ये फैसले सरकारी कर्मचारियों और गरीबों से लेकर आम लोगों के लिए खुशखबरी वाले हैं.

बता दे कि सरकार ने एक तरफ सरकारी कर्मचारियों को तोहफा देते हुए उनके महंगाई भत्ते में इजाफा के ऐलान किया, तो वहीं गरीबों को मुफ्त अनाज देने की प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना को तीन और महीने तक बढ़ाने का ऐलान किया. इसके साथ ही आम लोगों की रेल यात्रा को सुखमय बनाने के लिए दस हजार करोड़ रुपये की लागत से नई दिल्ली, अहमदाबाद और सीएसएमटी-मुंबई रेल स्टेशनों के पुनर्विकास को मंत्रिमंडल की मंजूरी दी.

 पेंशनधारियों को खुशखबरी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में हुई केंद्रीय मंत्रिमंडल की बैठक के बाद सूचना एवं प्रसारण मंत्री अनुराग ठाकुर ने संवाददातओं को बताया कि केंद्रीय कर्मचारियों और पेंशनधारियों के लिए 4% की दर से महंगाई भत्ता (DA) एवं राहत की किस्त जारी करने को अनुमति दी गई है. उन्होंने कहा कि यह किस्त एक जुलाई 2022 से लागू होगी. केंद्रीय कर्मचारियों और पेंशनधारियों के लिए चार प्रतिशत की दर से महंगाई भत्ता और राहत की किस्त जारी की जाएगी, जिस पर सालाना सरकारी खजाने पर 12,852 करोड़ रूपये का बोझ पड़ेगा. उन्होंने बताया कि इस निर्णय को लागू करने में जुलाई 2022 से फरवरी 2023 तक आठ महीने की अवधि में 8,588 करोड़ रूपये सरकारी खजाने से खर्च होंगे.

तीन महीने बढ़ी मुफ्त अनाज योजना

सरकार ने बुधवार को गरीबों को मुफ्त अनाज देने की प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना की अवधि तीन महीने यानी दिसंबर, 2022 तक बढ़ा दी है. इसपर 44,700 करोड़ रुपये की लागत आएगी. माना जा रहा है कि महंगाई से गरीबों को कुछ राहत देने के अलावा गुजरात विधानसभा चुनाव को देखते हुए यह निर्णय किया गया है. योजना के तहत 80 करोड़ गरीबों को पांच किलो गेहूं और चावल हर महीने दिया जाता है.

ये भी पढ़ें-दो एक्ट्रेस का मॉल में हुआ यौन उत्पीड़न, सोशल मीडिया पर बताई आपबीती

रेलवे स्टेशनों का पुनर्विकास

केंद्र सरकार ने इसके साथ ही नई दिल्ली रेलवे स्टेशन, मुंबई की छत्रपति शिवाजी महाराज रेलवे स्टेशन और अहमदाबाद रेलवे स्टेशन के पुनर्विकास के लिए 10,000 करोड़ रुपये जारी करने को मंजूरी दी है. लेकिन अभी 50 लाख से ज़्यादा फुटफॉल वाले स्टेशनों पर अभी फोकस कर रहे हैं.रेल मंत्री ने बताया कि नई दिल्ली रेलवे स्टेशन बसों, ऑटो और मेट्रो रेल सेवाओं के साथ ट्रेन सेवाओं को एकीकृत करेगा. वहीं अहमदाबाद रेलवे स्टेशन का नया स्वरूप मोडेरा के सूर्य मंदिर से प्रेरित है. इसके साथ ही उन्होंने बताया कि सीएसएमटी के हेरिटेज भवन को छुआ नहीं जाएगा, लेकिन आसपास की इमारतों को फिर से विकसित किया जाएगा.वैष्णव ने बताया कि रेलवे स्टेशनों में रूफ प्लाजा बनाने जाएंगे. प्लेटफार्म और पटरियों के ऊपर की जगह पर ये प्लाज़ा बनेंगे, जिसमें स्थानीय उत्पादों की दुकानें, फ़ूड कोर्ट, बच्चों के खेलने के लिए जगह जैसी सुविधाओं हो.

ये भी पढ़ें-पत्नी ने पति को उतारा मौत के घाट, प्राइवेट पार्ट भी काटा, वजह जान पुलिस भी हैरान…

English

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com