तीसरी बार कोरोना केस 4 लाख पार, 3920 लोगों की मौत

जुबिली न्‍यूज डेस्‍क 

भारत में कोरोना की तबाही अपने चरम की ओर बढ़ती दिख रही है। देश में कोरोना वायरस के मामले हर दिन एक नया रिकॉर्ड तोड़ रहे हैं। भारत में एक दिन में कोरोना से संक्रमित होने वाले मरीजों की संख्या में लगातार इजाफा हो रहा है और यह आंकड़ा अब 4.14 लाख पार कर गया है। स्वास्थ्य मंत्रालय के आंकड़ों के मुताबिक, देश में गुरुवार को (24 घंटे में) कोरोना संक्रमण के 414,433 नए मामले दर्ज किए गए और 3920 लोगों ने इस महामारी से जान गंवाई।

इससे पहले बुधवार को देश में कोरोना के 412,618 नए मामले सामने आए थे। वहीं, 30 अप्रैल को कोरोना के नए मामलों का आंकड़ा 4,02,351 था।

इस तरह से देश में कोरोना संक्रमण के कुल मामले करीब 2,14,84,911 हो गए और मृतकों की संख्या 2,30,168 पर पहुंच गई। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के आंकड़ों के अनुसार, देश में उपचाराधीन मरीजों की संख्या 35,66,398 है, जो संक्रमण के कुल मामलों का 16.92 प्रतिशत है। कोविड-19 से स्वस्थ होने वाले लोगों की राष्ट्रीय दर गिरकर 81.99 प्रतिशत हो गई है। बीमारी से स्वस्थ होने वाले लोगों की संख्या बढ़कर 1,75,97,137 हो गई है, जबकि मृत्यु दर 1.09 प्रतिशत है।

दूसरी ओर लगातार बढ़ रहे कोरोना मामलों के बीच इस महामारी की संभावित तीसरी लहर को लेकर सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र सरकार से तैयारियों पर सवाल किया। सुप्रीम कोर्ट ने पूछा कि तीसरी लहर में अगर बच्चे कोरोना से संक्रमित होते हैं तो सरकार के पास उनके इलाज के लिए क्या प्लान है. सुप्रीम कोर्ट ने पूछा कि अगर बच्चे संक्रमित हुए तो क्या माता-पिता अस्पताल में रहेंगे। इसके साथ ही सुप्रीम कोर्ट ने ये सवाल भी किया कि क्या हम नए ग्रेजुएट डॉक्टर और नर्स का तीसरी लहर के दौरान इस्तेमाल कर सकते हैं।

भारत में कोविड-19 के मामले सात अगस्त को 20 लाख का आंकड़ा पार कर गए थे। इसके बाद संक्रमण के मामले 23 अगस्त को 30 लाख, पांच सितंबर को 40 लाख और 16 सितंबर को 50 लाख के पार चले गए थे। वैश्विक महामारी के मामले 28 सितंबर को 60 लाख, 11 अक्टूबर को 70 लाख, 29 अक्टूबर को 80 लाख, 20 नवंबर को 90 लाख और 19 दिसंबर को एक करोड़ का आंकड़ा पार कर गए थे। भारत में महामारी के मामले 19 अप्रैल को 1.50 करोड़ के पार चले गए थे।

कोरोना के केस में फिर से भारी बढ़ोतरी शुरू होने के बीच 16 राज्यों की उच्च संक्रमण दर ने केंद्र की चिंताएं बढ़ा दी हैं। इनमें से 10 राज्यों में संक्रमण दर 25 फीसदी से भी ज्यादा है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के आंकड़ों के अनुसार, गोवा में संक्रमण दर सबसे ज्यादा 48 फीसदी दर्ज की गई है।

ये भी पढ़ें : कोरोना संक्रमण के चलते एक और भाजपा विधायक का निधन

संक्रमण दर से तात्पर्य यह है कि कुल संग्रह किए गए नमूनों से पॉजीटिव निकलने वाले नमूनों का प्रतिशत। गोवा में 48 फीसदी नमूने पॉजीटिव निकल रहे हैं। दूसरे नंबर पर हरियाणा है, जहां 37 फीसदी संक्रमण दर है। इसी प्रकार पश्चिम बंगाल में 33, दिल्ली में 32 तथा पुडुचेरी में 30 फीसदी है। मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और राजस्थान में यह 29 फीसदी, कर्नाटक में 28 तथा चंडीगढ़ में 26 फीसदी है।

मई में किस तरह कोरोना विकराल होता जा रहा है, इन आंकड़ों से समझिए।
6 मई 2021: 414,433 नए केस और 3,920 मौतें
5 मई 2021: 412,618 नए केस और 3,982 मौतें
4 मई 2021: 382,691 नए केस और 3,786 मौतें
3 मई 2021: 355,828 नए केस और 3,438 मौतें
2 मई 2021: 370,059 नए केस और 3,422 मौतें
1 मई 2021: 392,562 नए केस और 3,688 मौतें

English

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com