Thursday - 4 March 2021 - 3:57 PM

सूबे के सबसे बड़े बजट में पुलिस को कुछ नहीं मिला

जुबिली न्यूज़ डेस्क 

उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने साल 2021-22 का बजट आज पेश किया। इस बार सूबे का बजट अब तक का सबसे बड़ा बजट है। इसके साथ ही इस साल का बजट योगी सरकार का अंतिम बजट है। इस बार के बजट को पूरी तरह से डिजिटल माध्यम के जरिये पेश किया गया। योगी सरकार ने 5 लाख 50 हजार 270 करोड़ का बजट पेश किया है।

इस बार का बजट वित्तमंत्री ने प्रदेश के युवाओं की शिक्षा, कौशल संवर्धन, रोजगार के साथ-साथ प्रदेश की जनता को मूलभूत सुविधाओं और त्वरित न्याय उपलब्ध कराए जाने के प्रति समर्पित किया। अपने इस बजट में योगी सरकार ने कई अहम योजनाओं के लिए सरकारी विभागों को बजट आवंटित किया।

योगी सरकार ने  विभिन्न परियोजनाओं के लिए विभागों को बजट आवंटित किया है। सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्योग के लिए विभाग को 250 करोड़ रूपये आवंटित किये गये। स्मार्ट सिटी के लिए 2000 करोड़ रूपये तो कान्हा गौशाला के लिए 80 करोड़, पीएम आवास ग्रामीण के लिए 7000 करोड़, राष्ट्रीय रोज़गार गारंटी के तहत 5500 करोड़ सहित कई परियोजनाओं के बजट आवंटित किया गया।

वहीं, इस बजट में खास बात ये हैं कि प्रदेश सरकार के सबसे दो अहम विभागों के लिए बजट के पिटारे से कुछ नहीं निकला।इसमें पहला विभाग पुलिस, प्रशासन और दूसरा विभाग है उर्जा विभाग।जबकि अपने पिछले बजट में योगी सरकार ने पुलिस विभाग को करीब 1800 करोड़ रूपये आवंटित किया गया था।

ये भी पढ़े : योगी की बजट पोटली से लोगों के लिए क्या निकला?

गौरतलब है कि योगी सरकार  ने अपना पहला बजट वित्तीय वर्ष 2017-18 में 3.84 लाख करोड़ का पेश किया था। इसके बाद वित्तीय वर्ष 2017-18 में 3.84 लाख करोड़, 2018-19 में 4.28 लाख करोड़, 2019-20 में 4.79 लाख करोड़ और 2020-21 में 5.12 लाख करोड़ रुपये का बजट पेश किया था।

ये भी पढ़े : क्यों हुआ केंद्रीय मंत्री का शामली में विरोध

English

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com